एनडीटीवी में अदाणी की इंट्री के बाद शेयरों में उछाल, पांच फीसदी तक चढ़े मीडिया कंपनी के शेयर


ख़बर सुनें

अदाणी ग्रुप की एनडीटीवी मीडिया ग्रुप में बड़ी हिस्सेदारी खरीदने की खबरों के बाद बुधवार को शेयर बाजार में एनडीटीवी के शेयरों में बड़ा उछाल देखने को मिला। एनडीटीवी के शेयरों में पांच प्रतिशत तक की बढ़ोतरी आई। इसी के साथ कंपनी के शेयर दिन के अपर सर्किट को छू गए। 

फिलहाल एनडीटीवी के शेयरों की कीमत पांच प्रतिशत के उछाल के साथ 384.5 रुपये पर पहुंच गए हैं। यह दिन का अपर सर्किट लगाने के बाद 52 हफ्तों के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए।  

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर एनडीटीवी के शेयरों में 4.99% की उछाल आई। कंपनी के शेयरों ने 388.20 रुपये पर पहुंचते हुए दिन के अपर सर्किट को छू लिया है। यह कंपनी के बीते एक साल का उच्चतम स्तर है। 

बता दें कि एक आश्चर्यजनक कदम उठाते हुए अरबपति गौतम अदाणी ने एनडीटीवी के अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू की है। अगर यह अधिग्रहण अपने अंजाम तक पहुंचता है तो देश में मीडिया का वर्तमान परिदृश्य बदल सकता है।

अदाणी ग्रुप ने पहले ब्रॉडकास्टर में 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी के अप्रत्यक्ष अधिग्रहण के बाद कंपनी में हिस्सेदारी को नियंत्रित करने वाले अतिरिक्त 26 प्रतिशत शेयरों को भी खरीदने की पेशकश की है।

अदाणी ग्रुप की एनडीटीवी मीडिया ग्रुप में बड़ी हिस्सेदारी खरीदने की खबरों के बाद बुधवार को शेयर बाजार में एनडीटीवी के शेयरों में बड़ा उछाल देखने को मिला। एनडीटीवी के शेयरों में पांच प्रतिशत तक की बढ़ोतरी आई। इसी के साथ कंपनी के शेयर दिन के अपर सर्किट को छू गए। 

फिलहाल एनडीटीवी के शेयरों की कीमत पांच प्रतिशत के उछाल के साथ 384.5 रुपये पर पहुंच गए हैं। यह दिन का अपर सर्किट लगाने के बाद 52 हफ्तों के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए।  

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर एनडीटीवी के शेयरों में 4.99% की उछाल आई। कंपनी के शेयरों ने 388.20 रुपये पर पहुंचते हुए दिन के अपर सर्किट को छू लिया है। यह कंपनी के बीते एक साल का उच्चतम स्तर है। 

बता दें कि एक आश्चर्यजनक कदम उठाते हुए अरबपति गौतम अदाणी ने एनडीटीवी के अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू की है। अगर यह अधिग्रहण अपने अंजाम तक पहुंचता है तो देश में मीडिया का वर्तमान परिदृश्य बदल सकता है।

अदाणी ग्रुप ने पहले ब्रॉडकास्टर में 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी के अप्रत्यक्ष अधिग्रहण के बाद कंपनी में हिस्सेदारी को नियंत्रित करने वाले अतिरिक्त 26 प्रतिशत शेयरों को भी खरीदने की पेशकश की है।



Source link