काबुल में मस्जिद के निकट धमाका, सात की मौत और 41 अन्य घायल


blast

blast
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में शुक्रवार दोपहर मस्जिद के निकट हुए धमाके में कम से कम सात लोगों की मौत हो गई और 41 अन्य घायल हो गए। हाल के महीनों में शुक्रवार को मस्जिदों के निकट हुए धमाकों के सिलसिले में यह ताजा कड़ी है। इनमें कई धमाकों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली है।

काबुल पुलिस के प्रवक्ता खालिद जदरान ने बताया कि मस्जिद में नमाज के बाद लोग घर की ओर लौट रहे थे, तभी यह धमाका हुआ। मरने वाले सभी आम नागरिक हैं। घायलों में बच्चे भी शामिल हैं। 

गृह मंत्री के प्रवक्ता अब्दुल नफी ताकोर ने कहा कि धमाका मस्जिद के निकट मुख्य मार्ग पर किया गया। इटली के गैरसरकारी संगठन की ओर से चलाए जा रहे आपात अस्पताल ने भी इसकी पुष्टि की है। 

धमाके वाला स्थान काबुल में ग्रीन जोन कहा जाता था और यहां कई विदेशी दूतावास व नाटो कार्यालय थे। इस पर अब सत्ताधारी तालिबान का नियंत्रण है। वजीर अकबर खान मस्जिद को पहले भी निशाना बनाया जा चुका है। तालिबान के सत्ता में लौटने से पहले जून-2020 में यहां हुए धमाके में इमाम समेत दो लोगों की मौत हुई थी। 

विस्तार

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में शुक्रवार दोपहर मस्जिद के निकट हुए धमाके में कम से कम सात लोगों की मौत हो गई और 41 अन्य घायल हो गए। हाल के महीनों में शुक्रवार को मस्जिदों के निकट हुए धमाकों के सिलसिले में यह ताजा कड़ी है। इनमें कई धमाकों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली है।

काबुल पुलिस के प्रवक्ता खालिद जदरान ने बताया कि मस्जिद में नमाज के बाद लोग घर की ओर लौट रहे थे, तभी यह धमाका हुआ। मरने वाले सभी आम नागरिक हैं। घायलों में बच्चे भी शामिल हैं। 

गृह मंत्री के प्रवक्ता अब्दुल नफी ताकोर ने कहा कि धमाका मस्जिद के निकट मुख्य मार्ग पर किया गया। इटली के गैरसरकारी संगठन की ओर से चलाए जा रहे आपात अस्पताल ने भी इसकी पुष्टि की है। 

धमाके वाला स्थान काबुल में ग्रीन जोन कहा जाता था और यहां कई विदेशी दूतावास व नाटो कार्यालय थे। इस पर अब सत्ताधारी तालिबान का नियंत्रण है। वजीर अकबर खान मस्जिद को पहले भी निशाना बनाया जा चुका है। तालिबान के सत्ता में लौटने से पहले जून-2020 में यहां हुए धमाके में इमाम समेत दो लोगों की मौत हुई थी। 



Source link