आजादी का अमृत महोत्सव: यमुना नदी में निकाली गई तिरंगा यात्रा, लहरों के बीच शान से लहराया राष्ट्रीय ध्वज


स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आगरा के महापौर नवीन जैन के नेतृत्व में रविवार को अनोखी तिरंगा यात्रा का आयोजन किया गया। महापौर नाव पर सवार होकर कार्यकर्ता और समर्थकों के साथ यमुना नदी के बीच पहुंचे। उन्होंने यमुना की लहरों के बीच देश की आन, बान और शान का प्रतीक तिरंगा को लहराया। इस अनोखी तिरंगा यात्रा को देखने के लिए बल्केश्वर घाट पर सैकड़ों लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। यमुना घाट पर मौजूद लोगों ने देश की आजादी का जश्न मनाते हुए देशभक्ति के नारे लगाए।

आजादी के अमृत महोत्सव में शहरभर में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में रविवार को यमुना नदी में तिरंगा यात्रा निकाली गई। महापौर नवीन जैन के साथ बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता, पार्षद और क्षेत्रीय लोग मौजूद रहे। सभी नावों को तिरंगे के रूप में सजाया गया। जैसे ही महापौर ने नाव पर तिरंगे को लहराया, वैसे ही बल्केश्वर घाट भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारों से गुंजायमान हो उठा।

कलकल करती यमुना के बीच एक के बाद एक कई नाव पहुंचीं। सभी नावों पर तिरंगा शान से लहरा रहा था। इस अनोखी तिरंगा यात्रा में शामिल हुए लोगों के चेहरे पर एक अलग ही उत्साह दिखाई था।

महापौर नवीन जैन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आह्वान पर पूरा शहर आजादी का जश्न मना रहा है। शहर की सभी सड़कों और गलियों पर अलग-अलग स्वरूपों में तिरंगा यात्रा निकाली जा रही हैं। उसी क्रम में हमने यमुना नदी में अनोखी तिरंगा यात्रा निकाली। 

महापौर ने कहा कि आगरा शहर यमुना नदी के तट पर बसा है, वह भी हमारे और शहर के लिए एक जीवनदायिनी के रूप में है। इसलिए यमुना नदी को स्वच्छ और अविरल बनाए रखने के संकल्प और इस संकल्प को शहरवासियों तक पहुंचाने के उद्देश्य के साथ यमुना नदी में यह तिरंगा यात्रा निकाली है।

महापौर नवीन जैन ने कहा कि शहर का ऐसा कोई क्षेत्र नहीं बचा है. जहां पर आजादी का जश्न न मनाया जा रहा हो। उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री मोदी के प्रयासों से ही संभव हुआ है कि राष्ट्रीय ध्वज जिसे फहराने का काम पहले कुछ विशेष लोगों के हाथों में होता था, लेकिन अब घर-घर में तिरंगा फहराया जा रहा है।



Source link

Leave a Comment