Airtel ने 5g के नीलामी में मारी बाजी, 20 साल के लिए 43,084 करोड़ रुपये में अपने नाम किया स्पेक्ट्रम


ख़बर सुनें

देश में 5G नेटवर्क को लेकर काफी समय से चर्चा हो रही है। हर कोई फास्ट कनेक्टिविटी वाले 5G स्पेक्ट्रम का इंतजार काफी बेसब्री से कर रहा है। हाल ही में भारत की प्रमुख दूरसंचार सेवा प्रदान करने वाली कंपनी, भारती Airtel (“एयरटेल”) ने यह घोषणा की है कि वह भारत में 5G रेवोलुशन को लीड करने के लिए तैयार है। टेलीकॉम कंपनी ने कहा कि Airtel इस नीलामी के दौरान 19867.8 MHz स्पेक्ट्रम वाले इस 5G नेटवर्क में 900 MHz, 1800 MHz, 2100MHz, 3300 MHz और 26 GHz frequency के मेगाबैंड्स के पैन इंडिया फुटप्रिंट को हासिल किया है। Airtel ने इसे अगले 20 सालों के लिए हासिल करके 5G नेटवर्किंग में अपनी पकड़ बना ली है।

इससे पहले भारती Airtel मुख्य रूप से मिड-बैंड के स्पेक्ट्रम वाले नेटवर्क को मजबूत करने में काफी समर्थ रहा है। टेलीकम्यूनिकेशन डिपार्टमेंट, इंडियन गवर्नमेंट ने हाल ही में स्पेक्ट्रम के लिए जो लेटेस्ट तरीके से नीलामी प्रक्रिया शुरू की थी, उसमें Airtel ने इतने बड़े 5G स्पेक्ट्रम को तकरीबन 43,084 करोड़ रुपये में खरीद कर अपने नाम कर लिया है। Airtel के इस स्पेक्ट्रम को खरीदने से अब उसके पास 900 MHz, 1800 MHz, 2100 MHz, 3300 MHz 3.5 GHz और 26 GHz बैंड में 19,867.8 MHz तक का स्पेक्ट्रम उपलब्ध हो गया है।

आज Airtel के पास 5G स्पेक्ट्रम के आ जाने से वह देश में इंटरनेट ब्रॉडबैंड की सुविधा देने वाली सबसे बड़ी कंपनी बन गई है, जिसके जरिए वह देश में 5G क्रांति की न सिर्फ शुरुआत कर सकता है, बल्कि उसे अच्छे से स्थापित भी कर सकता है। बीते एक साल में Airtel ने अपने कई सहभागियों के साथ 5G स्पेक्ट्रम की टेस्टिंग में सबसे आगे रहा। Airtel ने ही सबसे पहले देश में 5G परीक्षण का नेतृत्व किया था.

Airtel ने बीते कुछ वर्षों में 5G स्पेक्ट्रम को खरीदने के लिए कई सारी रणनीतियां बनाई और उसी समझदारी भरे फैसलों और नीतियों की वजह से ही आज वह न सिर्फ 5G स्पेक्ट्रम को लेने में सफल हुआ है, बल्कि लो और मीडियम बैंड का भी सबसे बड़ा प्रोवाइडर बन गया है, जिसके जरिए 3.5 GHZ की स्ट्रांग कैपिसिटी के साथ 5G का बेहतरीन नेटवर्क लोगों को मिलेगा। साथ ही, बहुत ही कम इन्वेस्टमेंट में Airtel की तरफ से 26 GHz बैंड वाला यह नेटवर्क 100 गुना ज्यादा तेजी से इन्टरनेट प्रोवाइड करने की क्षमता रखता है।

5G स्पेक्ट्रम आ जाने से आपके जीवन में होगा ये बदलाव

फिल्म और वेब सीरीज को अच्छी क्वालिटी में देख सकते हैं: 5G नेटवर्क पर आप बिना बफर हुए बहुत ही आराम से हाई क्वालिटी में फिल्म और वेबसीरीज देख सकते हैं। आप 720P-1080P से आगे निकल कर 4K पर भी स्ट्रीमिंग का आनंद ले सकते हैं। 5G के साथ आप हाई स्पीड और लो लेटेंसी का लाभ उठा सकते हैं, जिससे हाई डेफिनेशन, लाइव टीवी स्ट्रीमिंग और वीडियोज देखना आसान हो जाएगा और वह भी बिना किसी रुकावट के।

आसानी से कर सकते हैं वर्क-फ्रॉम-होम: कोरोना के बाद से ही कई कंपनियों में हाइब्रिड मोड में काम हो रहा है जिसकी वजह से कई सारे एम्प्लोयी घर से काम कर रहे हैं जिन्हें तेज इंटरनेट की जरूरत होती है ताकि वो आसानी से अपने ऑफिस की मीटिंग्स, कांफ्रेंस कॉल और फाइल सबमिशन कर सके. ऐसे में 5G के आ जाने से आपके वर्क-फ्रॉम-होम को काफी बूस्ट मिलेगा और आप काफी तेजी से बिना बफरिंग काम कर सकते हैं।

ऑनलाइन और क्लाउड गेमिंग का मौका: आज के समय में लोग लाइव स्ट्रीमिंग वाले गेमिंग के काफी शौकीन है मगर ये 4G वाले स्पेक्ट्रम पर पॉसिबल नहीं है, क्योंकि वह काफी स्लो है। इसलिए 5G के आने से आप काफी तेजी से ऑनलाइन गेमिंग का आनंद लेने के साथ-साथ क्लाउड गेमिंग भी कर सकते हैं।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में आएगी तेजी: 5G आने से आप हाई डिफिनेशन क्वालिटी लाइव स्ट्रीमिंग और वायरलेस कनेक्शन के जरिए डॉक्टर से घर बैठे मेडिकल सुविधाएं ले सकेंगे। इसे आपको काफी लाभ होगा।

स्मार्ट सिटी का सपना होगा साकार: 5G के आने से डिजिटलीकरण को काफी तेजी से बूस्ट मिलेगा। इससे आपके ऑनलाइन ट्रांजेक्शन से लेकर टिकट बुकिंग आदि जैसे ऑनलाइन काम चंद मिनटों में हो सकेगा। साथ ही, आपको कैब के लिए घंटों इंतजार नहीं करना होगा। वह 5G की फास्ट कनेक्टिविटी से बहुत ही आसानी से आपके पास आ जाएगी।

भारती Airtel के एमडी और सीईओ गोपाल विट्टल ने कहा, “हम Airtel 5G नीलामी के परिणामों से खुश हैं। हाल ही में संपन्न हुई नीलामी के दौरान हमने इतने कॉम्पिटिशन के बावजूद बहुत ही लो इन्वेस्टमेंट पर सबसे बेस्ट स्पेक्ट्रम को हासिल करने के लिए जो समझदारी भरा प्लान तैयार किया था, यह उसका एक अहम हिस्सा था। इस स्पेक्ट्रम के जरिए हम भारत में उपभोक्ताओं के सभी आवश्यकताओं को समझते हुए उन्हें बेस्ट इंटरनेट कनेक्शन का एक शानदार अनुभव प्रदान करने का काम करेंगे। साथ ही, हमें यकीन है कि हम भारत में 5G के जरिए बेस्ट इंटरनेट कनेक्शन के साथ-साथ बेहतर कवरेज देने में समर्थ होंगे। इसके जरिए हमारे B2C और B2B दोनों प्रकार के उपभोक्ता के लिए जो भी पैटर्न बनाए गए हैं, उसमें भी काफी बदलाव देखने को मिलेगा। उन्होंने आगे कहा कि 5G टेक्नोलॉजी एक ऐसी क्रांति है, जो भारत में रीडेवलपमेंट के साथ-साथ सर्विसेज और कई क्षेत्रों में बदलाव लाने के लिए सक्षम है। हम भारत सरकार के डिजिटल इंडिया विजन के लिए पूरी तरह से कमिटेड है और हमारा यही प्रयत्न होगा कि हम भारत को टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में दुनिया के लिए एक बेहतरीन उदाहरण बना सकें और हम इसी लक्ष्य को पूरा करने का प्रयास करेंगे।”

पिछले कुछ वर्षों में कई बार अपनी 5G तत्परता को दिखाने वाले दूरसंचार ब्रांड के बारे में बात करें तो Airtel 2018 में सफलतापूर्वक 5G परीक्षण करने वाला देश का पहला दूरसंचार ब्रांड है। इस ब्रांड ने कोलकाता में 700 MHz बैंड पर भारत का पहला ग्रामीण 5G परीक्षण भी किया था। इसके अलावा Bosch कंपनी के साथ मिलकर पहला निजी 5G नेटवर्क पर अपोलो अस्पताल के साथ साझेदारी में भारत की पहली 5G कनेक्टेड एम्बुलेंस का परीक्षण करने वाली कंपनी भी Airtel ही है। 5G स्पेक्ट्रम पर पहली बार क्लाउड गेमिंग का एक्सपोजर भी Airtel ने दिया था।

इसके साथ ही Airtel ने पहली बार 1983 में हुए इंडिया वेस्टइंडीज मैच में कपिल देव के नाबाद 175 रनों की पारी को सफलतापूर्वक रिक्रिएट किया और कपिल देव के लाइव होलोग्राम को 5G के जरिए बेहतरीन तरीके से पेश किया, जिसे Replayed 175 का नाम दिया गया। 

विस्तार

देश में 5G नेटवर्क को लेकर काफी समय से चर्चा हो रही है। हर कोई फास्ट कनेक्टिविटी वाले 5G स्पेक्ट्रम का इंतजार काफी बेसब्री से कर रहा है। हाल ही में भारत की प्रमुख दूरसंचार सेवा प्रदान करने वाली कंपनी, भारती Airtel (“एयरटेल”) ने यह घोषणा की है कि वह भारत में 5G रेवोलुशन को लीड करने के लिए तैयार है। टेलीकॉम कंपनी ने कहा कि Airtel इस नीलामी के दौरान 19867.8 MHz स्पेक्ट्रम वाले इस 5G नेटवर्क में 900 MHz, 1800 MHz, 2100MHz, 3300 MHz और 26 GHz frequency के मेगाबैंड्स के पैन इंडिया फुटप्रिंट को हासिल किया है। Airtel ने इसे अगले 20 सालों के लिए हासिल करके 5G नेटवर्किंग में अपनी पकड़ बना ली है।

इससे पहले भारती Airtel मुख्य रूप से मिड-बैंड के स्पेक्ट्रम वाले नेटवर्क को मजबूत करने में काफी समर्थ रहा है। टेलीकम्यूनिकेशन डिपार्टमेंट, इंडियन गवर्नमेंट ने हाल ही में स्पेक्ट्रम के लिए जो लेटेस्ट तरीके से नीलामी प्रक्रिया शुरू की थी, उसमें Airtel ने इतने बड़े 5G स्पेक्ट्रम को तकरीबन 43,084 करोड़ रुपये में खरीद कर अपने नाम कर लिया है। Airtel के इस स्पेक्ट्रम को खरीदने से अब उसके पास 900 MHz, 1800 MHz, 2100 MHz, 3300 MHz 3.5 GHz और 26 GHz बैंड में 19,867.8 MHz तक का स्पेक्ट्रम उपलब्ध हो गया है।

आज Airtel के पास 5G स्पेक्ट्रम के आ जाने से वह देश में इंटरनेट ब्रॉडबैंड की सुविधा देने वाली सबसे बड़ी कंपनी बन गई है, जिसके जरिए वह देश में 5G क्रांति की न सिर्फ शुरुआत कर सकता है, बल्कि उसे अच्छे से स्थापित भी कर सकता है। बीते एक साल में Airtel ने अपने कई सहभागियों के साथ 5G स्पेक्ट्रम की टेस्टिंग में सबसे आगे रहा। Airtel ने ही सबसे पहले देश में 5G परीक्षण का नेतृत्व किया था.

Airtel ने बीते कुछ वर्षों में 5G स्पेक्ट्रम को खरीदने के लिए कई सारी रणनीतियां बनाई और उसी समझदारी भरे फैसलों और नीतियों की वजह से ही आज वह न सिर्फ 5G स्पेक्ट्रम को लेने में सफल हुआ है, बल्कि लो और मीडियम बैंड का भी सबसे बड़ा प्रोवाइडर बन गया है, जिसके जरिए 3.5 GHZ की स्ट्रांग कैपिसिटी के साथ 5G का बेहतरीन नेटवर्क लोगों को मिलेगा। साथ ही, बहुत ही कम इन्वेस्टमेंट में Airtel की तरफ से 26 GHz बैंड वाला यह नेटवर्क 100 गुना ज्यादा तेजी से इन्टरनेट प्रोवाइड करने की क्षमता रखता है।

5G स्पेक्ट्रम आ जाने से आपके जीवन में होगा ये बदलाव

फिल्म और वेब सीरीज को अच्छी क्वालिटी में देख सकते हैं: 5G नेटवर्क पर आप बिना बफर हुए बहुत ही आराम से हाई क्वालिटी में फिल्म और वेबसीरीज देख सकते हैं। आप 720P-1080P से आगे निकल कर 4K पर भी स्ट्रीमिंग का आनंद ले सकते हैं। 5G के साथ आप हाई स्पीड और लो लेटेंसी का लाभ उठा सकते हैं, जिससे हाई डेफिनेशन, लाइव टीवी स्ट्रीमिंग और वीडियोज देखना आसान हो जाएगा और वह भी बिना किसी रुकावट के।

आसानी से कर सकते हैं वर्क-फ्रॉम-होम: कोरोना के बाद से ही कई कंपनियों में हाइब्रिड मोड में काम हो रहा है जिसकी वजह से कई सारे एम्प्लोयी घर से काम कर रहे हैं जिन्हें तेज इंटरनेट की जरूरत होती है ताकि वो आसानी से अपने ऑफिस की मीटिंग्स, कांफ्रेंस कॉल और फाइल सबमिशन कर सके. ऐसे में 5G के आ जाने से आपके वर्क-फ्रॉम-होम को काफी बूस्ट मिलेगा और आप काफी तेजी से बिना बफरिंग काम कर सकते हैं।

ऑनलाइन और क्लाउड गेमिंग का मौका: आज के समय में लोग लाइव स्ट्रीमिंग वाले गेमिंग के काफी शौकीन है मगर ये 4G वाले स्पेक्ट्रम पर पॉसिबल नहीं है, क्योंकि वह काफी स्लो है। इसलिए 5G के आने से आप काफी तेजी से ऑनलाइन गेमिंग का आनंद लेने के साथ-साथ क्लाउड गेमिंग भी कर सकते हैं।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में आएगी तेजी: 5G आने से आप हाई डिफिनेशन क्वालिटी लाइव स्ट्रीमिंग और वायरलेस कनेक्शन के जरिए डॉक्टर से घर बैठे मेडिकल सुविधाएं ले सकेंगे। इसे आपको काफी लाभ होगा।

स्मार्ट सिटी का सपना होगा साकार: 5G के आने से डिजिटलीकरण को काफी तेजी से बूस्ट मिलेगा। इससे आपके ऑनलाइन ट्रांजेक्शन से लेकर टिकट बुकिंग आदि जैसे ऑनलाइन काम चंद मिनटों में हो सकेगा। साथ ही, आपको कैब के लिए घंटों इंतजार नहीं करना होगा। वह 5G की फास्ट कनेक्टिविटी से बहुत ही आसानी से आपके पास आ जाएगी।

भारती Airtel के एमडी और सीईओ गोपाल विट्टल ने कहा, “हम Airtel 5G नीलामी के परिणामों से खुश हैं। हाल ही में संपन्न हुई नीलामी के दौरान हमने इतने कॉम्पिटिशन के बावजूद बहुत ही लो इन्वेस्टमेंट पर सबसे बेस्ट स्पेक्ट्रम को हासिल करने के लिए जो समझदारी भरा प्लान तैयार किया था, यह उसका एक अहम हिस्सा था। इस स्पेक्ट्रम के जरिए हम भारत में उपभोक्ताओं के सभी आवश्यकताओं को समझते हुए उन्हें बेस्ट इंटरनेट कनेक्शन का एक शानदार अनुभव प्रदान करने का काम करेंगे। साथ ही, हमें यकीन है कि हम भारत में 5G के जरिए बेस्ट इंटरनेट कनेक्शन के साथ-साथ बेहतर कवरेज देने में समर्थ होंगे। इसके जरिए हमारे B2C और B2B दोनों प्रकार के उपभोक्ता के लिए जो भी पैटर्न बनाए गए हैं, उसमें भी काफी बदलाव देखने को मिलेगा। उन्होंने आगे कहा कि 5G टेक्नोलॉजी एक ऐसी क्रांति है, जो भारत में रीडेवलपमेंट के साथ-साथ सर्विसेज और कई क्षेत्रों में बदलाव लाने के लिए सक्षम है। हम भारत सरकार के डिजिटल इंडिया विजन के लिए पूरी तरह से कमिटेड है और हमारा यही प्रयत्न होगा कि हम भारत को टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में दुनिया के लिए एक बेहतरीन उदाहरण बना सकें और हम इसी लक्ष्य को पूरा करने का प्रयास करेंगे।”

पिछले कुछ वर्षों में कई बार अपनी 5G तत्परता को दिखाने वाले दूरसंचार ब्रांड के बारे में बात करें तो Airtel 2018 में सफलतापूर्वक 5G परीक्षण करने वाला देश का पहला दूरसंचार ब्रांड है। इस ब्रांड ने कोलकाता में 700 MHz बैंड पर भारत का पहला ग्रामीण 5G परीक्षण भी किया था। इसके अलावा Bosch कंपनी के साथ मिलकर पहला निजी 5G नेटवर्क पर अपोलो अस्पताल के साथ साझेदारी में भारत की पहली 5G कनेक्टेड एम्बुलेंस का परीक्षण करने वाली कंपनी भी Airtel ही है। 5G स्पेक्ट्रम पर पहली बार क्लाउड गेमिंग का एक्सपोजर भी Airtel ने दिया था।

इसके साथ ही Airtel ने पहली बार 1983 में हुए इंडिया वेस्टइंडीज मैच में कपिल देव के नाबाद 175 रनों की पारी को सफलतापूर्वक रिक्रिएट किया और कपिल देव के लाइव होलोग्राम को 5G के जरिए बेहतरीन तरीके से पेश किया, जिसे Replayed 175 का नाम दिया गया। 



Source link