तिरंगामय होगी ताजनगरी, आजादी के जश्न में गवाह बनेंगे 10 लाख तिरंगे


ख़बर सुनें

आजादी के जश्न के लिए ताजनगरी के लोग एक बार फिर से तैयार है। बच्चों से लेकर बुजुर्गों में तिरंगे का जुनून सिर चढ़कर बोल रहा है। शहर की सामाजिक संस्थाएं, स्कूल, कॉलेज, सरकारी कार्यालयों से लेकर गैरसरकारी कार्यालयों में तिरंगे लगाने के लिए ऑर्डर बुक किए जा रहे हैं। 15 अगस्त को लगभग दस लाख तिरंगों से शहर सजा नजर आएगा।

झंडे के होल सेल डीलर सुभाष बंसल का कहना है कि दो साल पहले 15 अगस्त के लिए जहां दस हजार तिरंगों के ऑर्डर आते थे। वहीं इस बार सात हजार तिरंगों की बुकिंग हो चुकी है। आने वाले दिनों में बुकिंग काफी बढ़ेगी। बंसल ने बताया कि शहरभर में हर साल लगभग सात लाख छोटे तिरंगे लग जाते हैं। 

इस बार आजादी की 75वीं वर्षगांठ का जश्न दोगुना है। इसलिए लगभग दस लाख तिरंगों के बीच आजादी का जश्न मनेगा। स्कूलों, कालेजों, सरकारी व गैर सरकारी कार्यालय द्वारा तिरंगे का निर्माण कराया जा रहा है। बड़ी दुकानों, राशन की दुकानों, जनरल स्टोर, गली, मोहल्लों में छोटी दुकानों पर तिरंगे खूब बिक रहे हैं। दो हजार से लेकर पंद्रह हजार तिरंगे तक संस्थाएं बुक करा रही हैं। 

रोज बिक रहे दस तिरंगे

खंदारी में तिरंगा बेचने वाले रिटेल विक्रेता राहुल ठाकुर बताते हैं कि तिरंगों की बिक्री पहले के मुकाबले ज्यादा हो रही है। कोरोना काल में बिक्री पर काफी प्रभाव पड़ा था। इस बार हर रोज लगभग दस छोटे तिरंगे बिक रहे हैं।

तिरंगों से सजेंगी घरों की छत

आजादी के 75 साल पूरे होने की खुशी में मोहल्लों और कॉलोनियों के बच्चों में भी इस बार काफी जोश दिख रहा है। आवास विकास कॉलोनी की रहने वाली देविना कत्याल ने अपनी सहेलियों के साथ पूरी कॉलोनी को छोटे तिरंगों से सजाने की तैयारी कर रखी है।

तिरंगा के लिए पहले देना पड़ेगा ऑर्डर

तिरंगा के लिए पहले ऑर्डर देना पड़ेगा। जिसके बाद समूह, संस्था या व्यक्तिगत रूप से तिरंगा लिया जा सकेगा। सीडीओ ए मनिकन्डन ने बताया कि 7.50 लाख तिरंगा वितरण का लक्ष्य है। इसमें 50 फीसदी तिरंगा एमएसएमई व 50 फीसदी विभागों द्वारा सिर्फ लाभार्थियों को वितरित किए जाएंगे। राशन दुकानों से सिर्फ राशन कार्ड धारक, ग्राम पंचायत, ब्लॉक से सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों को 25 रुपये में झंडा मिलेगा। इनके अलावा पीडब्ल्यूडी, स्वास्थ सहित अन्य विभाग अपने-अपने क्षेत्रों में तिरंगा वितरण करेंगे। 

12 हजार घरों पर तिरंगा फहराएंगे छात्र

आजादी की 75वीं सालगिरह पर अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान विद्या भारती के अंतर्गत सरस्वती शिक्षा परिषद आगरा महानगर से जुड़े 17 विद्यालयों के विद्यार्थी शहर के 12 हजार घरों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे। 10 से 14 अगस्त तक कमला नगर, बल्केश्वर, विजय नगर, सुभाष पार्क, तहसील मार्ग, आगरा कैंट, शास्त्रीपुरम, महर्षिपुरम, दयालबाग और यमुना ब्रिज सहित आगरा के 24 प्रमुख क्षेत्रों में स्कूली बच्चे तिरंगा यात्रा निकालकर लोगों को घर पर तिरंगा फहराने का संदेश देंगे। 

मंगलवार दोपहर कमला नगर स्थित सरस्वती विद्या मंदिर में सरस्वती शिक्षा परिषद आगरा महानगर के अध्यक्ष दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री राकेश गर्ग ने यह जानकारी दी। वार्ता में सरस्वती शिक्षा परिषद के मंत्री कौशल कुमार शर्मा, प्रबंधक वीके गोयल, प्रधानाचार्य कृष्ण कांत द्विवेदी और गणेश राम नागर कन्या इंटर कॉलेज की प्रबंधक श्रुति सिंघल आदि मौजूद रहीं।

विस्तार

आजादी के जश्न के लिए ताजनगरी के लोग एक बार फिर से तैयार है। बच्चों से लेकर बुजुर्गों में तिरंगे का जुनून सिर चढ़कर बोल रहा है। शहर की सामाजिक संस्थाएं, स्कूल, कॉलेज, सरकारी कार्यालयों से लेकर गैरसरकारी कार्यालयों में तिरंगे लगाने के लिए ऑर्डर बुक किए जा रहे हैं। 15 अगस्त को लगभग दस लाख तिरंगों से शहर सजा नजर आएगा।

झंडे के होल सेल डीलर सुभाष बंसल का कहना है कि दो साल पहले 15 अगस्त के लिए जहां दस हजार तिरंगों के ऑर्डर आते थे। वहीं इस बार सात हजार तिरंगों की बुकिंग हो चुकी है। आने वाले दिनों में बुकिंग काफी बढ़ेगी। बंसल ने बताया कि शहरभर में हर साल लगभग सात लाख छोटे तिरंगे लग जाते हैं। 

इस बार आजादी की 75वीं वर्षगांठ का जश्न दोगुना है। इसलिए लगभग दस लाख तिरंगों के बीच आजादी का जश्न मनेगा। स्कूलों, कालेजों, सरकारी व गैर सरकारी कार्यालय द्वारा तिरंगे का निर्माण कराया जा रहा है। बड़ी दुकानों, राशन की दुकानों, जनरल स्टोर, गली, मोहल्लों में छोटी दुकानों पर तिरंगे खूब बिक रहे हैं। दो हजार से लेकर पंद्रह हजार तिरंगे तक संस्थाएं बुक करा रही हैं। 



Source link