यूपी के युवा कंधों पर पीएम मोदी की हैट्रिक का दारोमदार, आगरा में लिखी गई पटकथा


ख़बर सुनें

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मिशन 2024 की तैयारियों में जुट गई है। नरेंद्र मोदी की हैट्रिक का दारोमदार यूपी के युवा कंधों पर होगा। जो भविष्य की भाजपा और नए भारत का निर्माण करेंगे। 2022 विधानसभा की तर्ज पर ही 2024 में लोकसभा का रोडमैप बना है। जिसमें राष्ट्रवाद, हिंदुत्व और विकास का एजेंडा प्रमुख है। इसके सहारे ही भाजपा की नैया चुनावी वैतरणी को पार करेगी।

दिल्ली का रास्ता यूपी से निकलता है। सूबे में 80 लोकसभा सीटें हैं। दो बार भाजपा का प्रयोग यहां धरातल पर सफल रहा है। खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने 2014 में यूपी में मोर्चा संभाला। वाराणसी को केंद्र बनाया और रिकॉर्ड 73 सीटें जीतीं। 2019 में 63 लोकसभा सीटों पर कमल खिला। अब 2024 में फिर वही करिश्मा दोहराने की तैयारी है। 

यूपी में ब्रज को भाजपा का गढ़ माना जाता है। जहां 13 सीटें हैं। 2014 में यहां 13 में 11 सीटें भाजपा ने जीतीं थीं। फिरोजाबाद और मैनपुरी में शिकस्त मिली। 2014 में 13 में 12 सीटें जीती थीं। सिर्फ मुलायम के गढ़ मैनपुरी में भाजपा को हार मिली थी। अबकी बार भाजपा का सूबे की 80 सीटों में 75 पर कमल खिलाने का लक्ष्य है। जिसमें युवा की भूमिका अहम होगी। 

आगरा में लिखी गई पटकथा 

पिछले आठ सालों में जहां नेतृत्व की उम्र बढ़ रही है, वहीं नया नेतृत्व भी उभरकर आ रहा है। युवा मोर्चा राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या इस नेतृत्व को धार देने में जुटे हैं, जो भविष्य की भाजपा का नेतृत्व करेगा। पांच साल बाद हुए भाजयुमो के प्रदेश प्रशिक्षण वर्ग में मिशन 2024 की पटकथा लिखी गई है। इसके लिए ब्रज में आगरा को चुना गया। जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, संगठन महामंत्री सुनील बंसल, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने युवाओं को मिशन 2024 में जीत का मंत्र दिया है।

ब्रज बना केसरिया किला

12 साल के इंतजार के बाद 2017 में सूबे में जब पहली बार भाजपा सरकार बनी तो ब्रज केसरिया किला बन कर उभरा। विधानसभा चुनाव 2017 में ब्रज क्षेत्र की 64 सीटों में 57 सीटों पर कमल खिला था। 2022 में पश्चिम क्षेत्र दरका, लेकिन ब्रज का किला खड़ा रहा। 2022 चुनाव में भाजपा ने 54 सीटें जीतीं। 

युवा नई भाजपा का आधार

भाजयुमो के ब्रजक्षेत्र अध्यक्ष मनीष गौतम ने कहा कि 2024 में युवाओं की वही भूमिका होगी जो 2014, 2017 व 2019 चुनाव में रही।  अनुशासित युवा नई भाजपा का आधार हैं। इस आधार पर ही राष्ट्र निर्माण की बुलंद इमारत खड़ी होगी, जो भारत को विश्व गुरु बनाएगी। 

विस्तार

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मिशन 2024 की तैयारियों में जुट गई है। नरेंद्र मोदी की हैट्रिक का दारोमदार यूपी के युवा कंधों पर होगा। जो भविष्य की भाजपा और नए भारत का निर्माण करेंगे। 2022 विधानसभा की तर्ज पर ही 2024 में लोकसभा का रोडमैप बना है। जिसमें राष्ट्रवाद, हिंदुत्व और विकास का एजेंडा प्रमुख है। इसके सहारे ही भाजपा की नैया चुनावी वैतरणी को पार करेगी।

दिल्ली का रास्ता यूपी से निकलता है। सूबे में 80 लोकसभा सीटें हैं। दो बार भाजपा का प्रयोग यहां धरातल पर सफल रहा है। खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने 2014 में यूपी में मोर्चा संभाला। वाराणसी को केंद्र बनाया और रिकॉर्ड 73 सीटें जीतीं। 2019 में 63 लोकसभा सीटों पर कमल खिला। अब 2024 में फिर वही करिश्मा दोहराने की तैयारी है। 

यूपी में ब्रज को भाजपा का गढ़ माना जाता है। जहां 13 सीटें हैं। 2014 में यहां 13 में 11 सीटें भाजपा ने जीतीं थीं। फिरोजाबाद और मैनपुरी में शिकस्त मिली। 2014 में 13 में 12 सीटें जीती थीं। सिर्फ मुलायम के गढ़ मैनपुरी में भाजपा को हार मिली थी। अबकी बार भाजपा का सूबे की 80 सीटों में 75 पर कमल खिलाने का लक्ष्य है। जिसमें युवा की भूमिका अहम होगी। 



Source link