दिल्ली में कोरोना की रफ्तार बढ़ी, संक्रमण दर 20% के करीब, बूस्टर डोज नहीं लेने वालों को खतरा ज्यादा


ख़बर सुनें

दिल्ली में कोरोना एक बार फिर रफ्तार पकड़ने लगा है। राष्ट्रीय राजधानी में बीते 24 घंटे में संक्रमण दर 20 फीसदी के करीब पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे में यहां कोरोना के 917 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 1,566 मरीज ठीक हुए और तीन लोगों की मृत्यु भी हुई है। दिल्ली में  सक्रिय मामले 6,867 हैं।

इससे पहले कोरोना के मामलों में आए उछाल पर उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने मंगलवार को शहरवासियों से कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी अभी खत्म नहीं हुई है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, ”हम कोरोना के संक्रमण, लगातार हाई पॉजिटिविटी दर और रीइन्फेक्शन (दोबारा संक्रमित होने) के मामलों में उछाल देख रहे हैं। हमें यह समझना जरूरी है कि महामारी अभी खत्म नहीं हुई है।”

इस बीच उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज लगवाने लोग अन्य की अपेक्षा महामारी से ज्यादा सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि दिल्लीवासियों को कोरोना से सुरक्षित रखने के लिए एहतियाती खुराक के टीकाकरण की गति बढ़ा दी गई है।

उन्होंने कहा कि अस्पतालों में भर्ती कोरोना के मरीजों में टीके की एहतियाती खुराक लेने वाले लोग अन्य लोगों से अधिक सुरक्षित पाए गए हैं। अस्पताल में भर्ती संक्रमितों में 90 फीसदी ऐसे हैं, जिन्होंने टीके की केवल दो खुराक ली हैं। वहीं, बूस्टर डोज ले चुके 10 फीसदी लोग ही कोरोना की चपेट में आए हैं।

विस्तार

दिल्ली में कोरोना एक बार फिर रफ्तार पकड़ने लगा है। राष्ट्रीय राजधानी में बीते 24 घंटे में संक्रमण दर 20 फीसदी के करीब पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे में यहां कोरोना के 917 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 1,566 मरीज ठीक हुए और तीन लोगों की मृत्यु भी हुई है। दिल्ली में  सक्रिय मामले 6,867 हैं।

इससे पहले कोरोना के मामलों में आए उछाल पर उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने मंगलवार को शहरवासियों से कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी अभी खत्म नहीं हुई है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, ”हम कोरोना के संक्रमण, लगातार हाई पॉजिटिविटी दर और रीइन्फेक्शन (दोबारा संक्रमित होने) के मामलों में उछाल देख रहे हैं। हमें यह समझना जरूरी है कि महामारी अभी खत्म नहीं हुई है।”

इस बीच उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज लगवाने लोग अन्य की अपेक्षा महामारी से ज्यादा सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि दिल्लीवासियों को कोरोना से सुरक्षित रखने के लिए एहतियाती खुराक के टीकाकरण की गति बढ़ा दी गई है।

उन्होंने कहा कि अस्पतालों में भर्ती कोरोना के मरीजों में टीके की एहतियाती खुराक लेने वाले लोग अन्य लोगों से अधिक सुरक्षित पाए गए हैं। अस्पताल में भर्ती संक्रमितों में 90 फीसदी ऐसे हैं, जिन्होंने टीके की केवल दो खुराक ली हैं। वहीं, बूस्टर डोज ले चुके 10 फीसदी लोग ही कोरोना की चपेट में आए हैं।



Source link