ट्रैक एंड फील्ड में भारत का ऐतिहासिक प्रदर्शन, दिल्ली से आगे तो नहीं निकले, लेकिन बड़ी उम्मीद बनकर निखरे


ख़बर सुनें

राष्ट्रमंडल खेलों में भारत ने ट्रैक एंड फील्ड स्पर्धा में पहली बार विदेश धरती पर एक स्वर्ण, चार रजत और तीन कांस्य सहित कुल आठ पदक जीते। इन खेलों में भारत ने अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन 2010 दिल्ली में किया था। उस समय दो स्वर्ण, तीन रजत और सात कांस्य सहित कुल 12 पदक जीते थे।

बर्मिंघम में भारतीय एथलीट भले ही दिल्ली के प्रदर्शन से आगे न निकल पाए हों लेकिन वे बड़ी उम्मीद बनकर निखरे हैं। ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा की गैरमौजूदगी में भारत ने ट्रैक एंड फील्ड में कई रिकॉर्ड बनाए। तिहरी कूद में एल्डोस पॉल ने स्वर्ण और अब्दुल्ला अबूकर स्वर्ण और रजत जीते।

मुरली  श्रीशंकर ने लंबी कूद में रजत, तेजस्विन शंकर ने ऊंची कूद में कांस्य, प्रियंका गोस्वामी में 10 किलोमीटर पैदल चाल में रजत, अविनाश साबले ने 3000 मीटर स्टीपलचेज में रजत, अन्नू रानी ने महिला जेवलिन थ्रो में कांस्य जीता। ये वो खिलाड़ी हैं, जिन्होंने भारत के लिए न केवल रिकॉर्ड बनाकर पदक जीते, बल्कि ट्रैक एंड फील्ड खेल को नई ऊर्जा दी है। 
 
विदेश में पहली बार आठ पदक, इससे पहले जीते थे तीन
राष्ट्रमंडल खेलोें में इससे पहले भारत तीन पदक से ज्यादा कभी नहीं जीत पाया था। इस बार उसने आठ पदक जीते हैं। 2006 मेलबर्न में दो रजत और एक कांस्य जीता। इसके अलावा 2014 ग्लास्गो और 2018 गोल्ड कोस्ट में दोनों बार एक स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य जीता था। इस बार एक स्वर्ण, चार रजत और तीन कांस्य जीते हैं।

तीन राष्ट्रमंडल खेलों में ट्रैक एंड फील्ड में भारत का प्रदर्शन

खेल वर्ष स्वर्ण रजत कांस्य कुल
2014 01 01 01 03
2018 01 01 01 03
2022 01 04 03 08

विस्तार

राष्ट्रमंडल खेलों में भारत ने ट्रैक एंड फील्ड स्पर्धा में पहली बार विदेश धरती पर एक स्वर्ण, चार रजत और तीन कांस्य सहित कुल आठ पदक जीते। इन खेलों में भारत ने अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन 2010 दिल्ली में किया था। उस समय दो स्वर्ण, तीन रजत और सात कांस्य सहित कुल 12 पदक जीते थे।

बर्मिंघम में भारतीय एथलीट भले ही दिल्ली के प्रदर्शन से आगे न निकल पाए हों लेकिन वे बड़ी उम्मीद बनकर निखरे हैं। ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा की गैरमौजूदगी में भारत ने ट्रैक एंड फील्ड में कई रिकॉर्ड बनाए। तिहरी कूद में एल्डोस पॉल ने स्वर्ण और अब्दुल्ला अबूकर स्वर्ण और रजत जीते।

मुरली  श्रीशंकर ने लंबी कूद में रजत, तेजस्विन शंकर ने ऊंची कूद में कांस्य, प्रियंका गोस्वामी में 10 किलोमीटर पैदल चाल में रजत, अविनाश साबले ने 3000 मीटर स्टीपलचेज में रजत, अन्नू रानी ने महिला जेवलिन थ्रो में कांस्य जीता। ये वो खिलाड़ी हैं, जिन्होंने भारत के लिए न केवल रिकॉर्ड बनाकर पदक जीते, बल्कि ट्रैक एंड फील्ड खेल को नई ऊर्जा दी है। 

 

विदेश में पहली बार आठ पदक, इससे पहले जीते थे तीन

राष्ट्रमंडल खेलोें में इससे पहले भारत तीन पदक से ज्यादा कभी नहीं जीत पाया था। इस बार उसने आठ पदक जीते हैं। 2006 मेलबर्न में दो रजत और एक कांस्य जीता। इसके अलावा 2014 ग्लास्गो और 2018 गोल्ड कोस्ट में दोनों बार एक स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य जीता था। इस बार एक स्वर्ण, चार रजत और तीन कांस्य जीते हैं।

तीन राष्ट्रमंडल खेलों में ट्रैक एंड फील्ड में भारत का प्रदर्शन

खेल वर्ष स्वर्ण रजत कांस्य कुल
2014 01 01 01 03
2018 01 01 01 03
2022 01 04 03 08



Source link