Hamara Kasba I Hindi News I Bundelkhand News

आगरा में सावन के आखिरी सोमवार को पृथ्वीनाथ मंदिर पर लगा मेला, भक्तों ने किया जलाभिषेक

ByNews Desk

Aug 8, 2022


ख़बर सुनें

आगरा में सावन के चौथे सोमवार को पृथ्वीनाथ मंदिर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु महादेव के दर्शन करने के लिए पहुंचे। सुबह मंगला आरती के बाद पांच बजे पट खुले तो महादेव के जयकारों से मंदिर परिसर गूंज उठा। बाबा भोलेनाथ का जलाभिषेक किया गया। भक्तों को कंकड़-कंकड़ में भगवान शिव नजर आए। 

सोमवार को पृथ्वीनाथ मंदिर में दिनभर भगवान शिव का जलाभिषेक हुआ। शिव के दर्शन के लिए कतार में श्रद्धालु घंटो खड़े नजर आए। भक्तों ने महादेव की पूजा-अर्चना की। सुबह बाबा का जलाभिषेक और महाआरती की गई। दोपहर को भोग लगाया गया। इसके बाद शाम को मंदिर में फूल बंगला सजा और बाबा का अलौकिक शृंगार किया गया। शाम को रुद्राभिषेक के बाद शयन आरती कर पट बंद किए गए। भक्तों ने शिव की पूजा अर्चना के अलावा मेले का भी लुत्फ उठाया। रात 12 बजे मेले का समापन किया गया। 

शिवालयों में हुई विशेष पूजा-अर्चना

शहर के राजेश्वर, बल्केश्वर, कैलाश, पृथ्वीनाथ, मन:कामेश्वर और रावली महादेव मंदिर पर भोर की आरती के बाद से ही बाबा के दरबार में दर्शन, पूजन और जलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। शिवालयों में विशेष पूजा-अर्चना भी की गई। 

जलाभिषेक कर लगा अच्छा

शाहगंज के प्रशांत मोहन शर्मा ने बताया कि सावन के सोमवार के लिए गंगोत्री से गंगाजल लेकर आया था। शिव का जलाभिषेक कर अच्छा लग रहा है। नार्थ ईदगाह के निशांत चतुर्वेदी ने कहा कि सावन का महीना शिव के भक्तों के लिए विशेष होता है। पृथ्वीनाथ महादेव के दर्शन कर पूजा अर्चना की।

सब हो जाता है शिवमय

दयालबाग की एकता गौतम ने कहा कि इस माह को लेकर मन में उत्साह होता है। सब शिवमय ही नजर आता है। मैंने भी मंदिर जाकर पूजा कर प्रार्थना की है। चाणक्यपुरी की कनिका पाराशर ने कहा कि सावन में मंदिर और घरों का माहौल भक्तिमय हो जाता है। सावन के आखिरी सोमवार को मंदिर जाकर शिव का जलाभिषेक किया।

विस्तार

आगरा में सावन के चौथे सोमवार को पृथ्वीनाथ मंदिर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु महादेव के दर्शन करने के लिए पहुंचे। सुबह मंगला आरती के बाद पांच बजे पट खुले तो महादेव के जयकारों से मंदिर परिसर गूंज उठा। बाबा भोलेनाथ का जलाभिषेक किया गया। भक्तों को कंकड़-कंकड़ में भगवान शिव नजर आए। 

सोमवार को पृथ्वीनाथ मंदिर में दिनभर भगवान शिव का जलाभिषेक हुआ। शिव के दर्शन के लिए कतार में श्रद्धालु घंटो खड़े नजर आए। भक्तों ने महादेव की पूजा-अर्चना की। सुबह बाबा का जलाभिषेक और महाआरती की गई। दोपहर को भोग लगाया गया। इसके बाद शाम को मंदिर में फूल बंगला सजा और बाबा का अलौकिक शृंगार किया गया। शाम को रुद्राभिषेक के बाद शयन आरती कर पट बंद किए गए। भक्तों ने शिव की पूजा अर्चना के अलावा मेले का भी लुत्फ उठाया। रात 12 बजे मेले का समापन किया गया। 

शिवालयों में हुई विशेष पूजा-अर्चना

शहर के राजेश्वर, बल्केश्वर, कैलाश, पृथ्वीनाथ, मन:कामेश्वर और रावली महादेव मंदिर पर भोर की आरती के बाद से ही बाबा के दरबार में दर्शन, पूजन और जलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। शिवालयों में विशेष पूजा-अर्चना भी की गई। 



Source link