Hamara Kasba I Hindi News I Bundelkhand News

विदेश मंत्री जयशंकर ने यूक्रेनी समकक्ष के साथ की युद्ध पर चर्चा, पढ़ें देश दुनिया की प्रमुख खबरें

ByNews Desk

Aug 8, 2022


ख़बर सुनें

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने सोमवार को यूक्रेन के समकक्ष दिमित्रो कुलेबा के साथ बातचीत की। उन्होंने इस दौरान यूक्रेन के रूस के साथ युद्ध के ताजा घटनाक्रम और इसके दुनिया पर पड़ रहे प्रभावों पर भी बातचीत की। जयशंकर ने भारत की ओर से मानवीय मदद की नई खेप जल्द यूक्रेन पहुंचाने का भी आश्वासन दिया। एस. जयशंकर ने एक ट्वीट में यह जानकारी दी। रूस-यूक्रेन विवाद पर भारत का रुख है कि यह मामला कूटनीति और बातचीत के माध्यम से हल किया जाना चाहिए।

यूक्रेनी परमाणु संयंत्र के अंतरराष्ट्रीय निरीक्षण की मिले अनुमति : यूएन
संयुक्त राष्ट्र (यूएन) महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने कहा कि यूरोप के सबसे बड़े जैपोरिझिया परमाणु संयंत्र पर बमबारी के मामले में रूस और यूक्रेन के एक-दूसरे पर आरोप लगाने के बाद इसके अंतरराष्ट्रीय निरीक्षण की अनुमति दी जानी चाहिए। दुनिया के पहले परमाणु हमले की 77वीं बरसी पर हिरोशिमा शांति स्मारक पर हुए एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद पत्रकारों से बातचीत में गुटेरस ने कहा, किसी भी परमाणु संयंत्र पर हमला आत्महत्या कै समान है। दक्षिणपूर्वी यूक्रेन में स्थित जैपोरिझिया परमाणु संयंत्र पर रूसी फौजों ने मार्च माह के शुरू में कब्जा कर लिया था।

हालांकि इसका संचालन अब भी यूक्रेन के तकनीकी कर्मचारी ही कर रहे हैं। यूक्रेन ने शनिवार की बमबारी के बाद रूस पर आरोप लगाया था कि लगातार हमलों में इसके तीन रेडियेशन सेंसर को नुकसान पहुंचा है और प्लांट का एक कर्मचारी घायल हुआ है। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने एक टेलीविजन प्रसारण में आरोप लगाया कि रूस परमाणु आतंक फैला रहा है। इसलिए उसके खिलाफ और अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध लगाए जाने चाहिए। इस बार मास्को के परमाणु सेक्टर को निशाना बनाया जाना चाहिए।

पाकिस्तान : सेना का दुष्प्रचार करने वालों का पता लगाएगी एफआईए
पाकिस्तान की संघीय अन्वेषण एजेंसी (एफआईए) ने सोशल मीडिया पर सेना के बारे में दुष्प्रचार में शामिल लोगों का पता लगाने और उनकी धरपकड़ करने के लिए चार सदस्यीय टीम का गठन किया है। सूचना मंत्री मरियम औरंगजेब ने इस गठन की पुष्टि की है। एफआईए ने यह कार्रवाई सोशल मीडिया पर कुछ लोगों द्वारा कथित रूप से इस दावे के बाद की गई कि सेना ने सहानुभूति हासिल करने के लिए हाल ही में हुए एक हेलीकॉप्टर हादसे की साजिश रची थी। इसमें छह वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों की मौत हो गई थी। हेलीकॉप्टर हादसे में मारे गए छह लोगों में 12वीं कोर के कमांडर जनरल सरफराज अली भी शामिल थे। उन्हें तत्कालीन पीएम इमरान खान सेना प्रमुख बनाना चाहते थे।

इमरान ने देश को गुमराह किया, आत्मसमर्पण करना होगा : उज्मा
पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) की वरिष्ठ नेता उज्मा बुखारी कहा कि पूर्व पीएम और पीटीआई प्रमुख इमरान खान तथा उनके सहयोगियों को कानून के सामने आत्मसमर्पण करना होगा। उन्होंने कहा, संस्थानों की दी गई उनकी धमकियां नाकाम हो गई हैं। पीटीआई के विदेशी फंडिंग मामले में चल रही जांच का जिक्र करते हुए उज्मा ने इमरान पर चंदे की रकम के गबन का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा, इमरान ने विदेशी पाकिस्तानियों को भी धोखा दिया है क्योंकि उन्हें देश में अराजकता पैदा करने के लिए दान के पैसे का इस्तेमाल करते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया था।

भारतीय उच्चायुक्त खैबर पख्तूनख्वा गए तो होगा रेड कारपेट स्वागत
पेशावर (पाकिस्तान)। अमेरिकी राजदूत डोनाल्ड ब्लोम के स्वागत में रेड कारपेट बिछाने पर आलोचना झेल रही खैबर पख्तूनख्वा (केपीके) सरकार ने सोमवार को सफाई दी कि वह प्रांत की आधिकारिक यात्रा पर आए थे। उनका किसी पार्टी की राजनीति से संपर्क नहीं है। सरकार ने साथ ही कहा कि कल अगर भारतीय उच्चायुक्त भी ऐसी यात्रा पर आएंगे तो उनका भी ऐसा ही स्वागत होगा। प्रांत में इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) की सरकार है।

इमरान ने अमेरिका के बाइडन प्रशासन पर आरोप लगाया था कि उसने साजिश रचकर उनकी सरकार को गिराया है। पिछले सप्ताह केपीके के सीएम महमूद खान के अमेरिकी राजदूत के स्वागत में रेड कारपेट बिछाने की विपक्षी पार्टियां और सोशल मीडिया उपयोगकर्ता जमकर आलोचना कर रहे हैं। केपीके सरकार के प्रवक्ता बैरिस्टर मोहम्मद अली सैफ ने प्रांत में कई कल्याणकारी योजनाओं के लिए अमेरिकी सरकार को धन्यवाद भी दिया।

सीबीआई के समक्ष पेश नहीं हुए तृणमूल नेता
मवेशी तस्करी मामले में तृणमूल कांग्रेस नेता अनुब्रत मंडल केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के समक्ष सोमवार को पेश नहीं हुए। एजेंसी सूत्रों के मुताबिक उन्होंने जांच एजेंसी को सूचित किया था कि वह उपस्थित नहीं रह पाएंगे। पार्टी के बीरभूम जिलाअध्यक्ष मंडल ने मेडिकल जांच के कारण पेश होने में असमर्थता जताते हुए सीबीआई कोईमेल भेजा। सूत्र ने कहा कि सीबीआई अधिकारियों ने मंडल का ईमेल प्राप्त होने की बात स्वीकारी है।

मानहानि मामले में पड़ोसी के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंचे सलमान
अभिनेता सलमान खान अपने एनआरआई पड़ोसी के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट पहुंच गए हैं। मानहानि मामले में सिटी सिविल कोर्ट से राहत न मिलने के बाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की। दरअसल, सलमान के पड़ोसी केतन ने यूट्यूब चैनल को दिए साक्षात्कार में अभिनेता खान पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी और कई आरोप भी लगाए थे।

भारत में जिहाद को बढ़ावा दे रहे दो बांग्लादेशी गिरफ्तार
राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने भारत में जिहाद का पाठ पढ़ाने वाले दो बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है। दोनों चरम कट्टरपंथी हें और नफरत भड़काने वाली सामग्री ऑनलाइन जारी कर ये लोग जिहाद को बढ़ावा देते थे। एनआईए ने दोनों को भोपाल से गिरफ्तार किया है। एजेंसी

तेलंगाना : छत के पंखे से लटका मिला प्रदेश भाजपा नेता का शव
तेलंगाना भाजपा इकाई के सदस्य ज्ञानेंद्र प्रसाद (45) ने सोमवार को यहां अपने आवास पर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस के मुताबिक प्रसाद का शव एक कमरे में छत के पंखे से लटका मिला। सर्लिगमपल्ली विधानसभा क्षेत्र से प्रसाद प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी के सदस्य थे। उन्होंने यह कदम क्यों उठाया, इसकी वजह पता नहीं चल सकी है।

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने सोमवार को यूक्रेन के समकक्ष दिमित्रो कुलेबा के साथ बातचीत की। उन्होंने इस दौरान यूक्रेन के रूस के साथ युद्ध के ताजा घटनाक्रम और इसके दुनिया पर पड़ रहे प्रभावों पर भी बातचीत की। जयशंकर ने भारत की ओर से मानवीय मदद की नई खेप जल्द यूक्रेन पहुंचाने का भी आश्वासन दिया। एस. जयशंकर ने एक ट्वीट में यह जानकारी दी। रूस-यूक्रेन विवाद पर भारत का रुख है कि यह मामला कूटनीति और बातचीत के माध्यम से हल किया जाना चाहिए।

यूक्रेनी परमाणु संयंत्र के अंतरराष्ट्रीय निरीक्षण की मिले अनुमति : यूएन

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने कहा कि यूरोप के सबसे बड़े जैपोरिझिया परमाणु संयंत्र पर बमबारी के मामले में रूस और यूक्रेन के एक-दूसरे पर आरोप लगाने के बाद इसके अंतरराष्ट्रीय निरीक्षण की अनुमति दी जानी चाहिए। दुनिया के पहले परमाणु हमले की 77वीं बरसी पर हिरोशिमा शांति स्मारक पर हुए एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद पत्रकारों से बातचीत में गुटेरस ने कहा, किसी भी परमाणु संयंत्र पर हमला आत्महत्या कै समान है। दक्षिणपूर्वी यूक्रेन में स्थित जैपोरिझिया परमाणु संयंत्र पर रूसी फौजों ने मार्च माह के शुरू में कब्जा कर लिया था।

हालांकि इसका संचालन अब भी यूक्रेन के तकनीकी कर्मचारी ही कर रहे हैं। यूक्रेन ने शनिवार की बमबारी के बाद रूस पर आरोप लगाया था कि लगातार हमलों में इसके तीन रेडियेशन सेंसर को नुकसान पहुंचा है और प्लांट का एक कर्मचारी घायल हुआ है। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने एक टेलीविजन प्रसारण में आरोप लगाया कि रूस परमाणु आतंक फैला रहा है। इसलिए उसके खिलाफ और अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध लगाए जाने चाहिए। इस बार मास्को के परमाणु सेक्टर को निशाना बनाया जाना चाहिए।

पाकिस्तान : सेना का दुष्प्रचार करने वालों का पता लगाएगी एफआईए

पाकिस्तान की संघीय अन्वेषण एजेंसी (एफआईए) ने सोशल मीडिया पर सेना के बारे में दुष्प्रचार में शामिल लोगों का पता लगाने और उनकी धरपकड़ करने के लिए चार सदस्यीय टीम का गठन किया है। सूचना मंत्री मरियम औरंगजेब ने इस गठन की पुष्टि की है। एफआईए ने यह कार्रवाई सोशल मीडिया पर कुछ लोगों द्वारा कथित रूप से इस दावे के बाद की गई कि सेना ने सहानुभूति हासिल करने के लिए हाल ही में हुए एक हेलीकॉप्टर हादसे की साजिश रची थी। इसमें छह वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों की मौत हो गई थी। हेलीकॉप्टर हादसे में मारे गए छह लोगों में 12वीं कोर के कमांडर जनरल सरफराज अली भी शामिल थे। उन्हें तत्कालीन पीएम इमरान खान सेना प्रमुख बनाना चाहते थे।

इमरान ने देश को गुमराह किया, आत्मसमर्पण करना होगा : उज्मा

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) की वरिष्ठ नेता उज्मा बुखारी कहा कि पूर्व पीएम और पीटीआई प्रमुख इमरान खान तथा उनके सहयोगियों को कानून के सामने आत्मसमर्पण करना होगा। उन्होंने कहा, संस्थानों की दी गई उनकी धमकियां नाकाम हो गई हैं। पीटीआई के विदेशी फंडिंग मामले में चल रही जांच का जिक्र करते हुए उज्मा ने इमरान पर चंदे की रकम के गबन का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा, इमरान ने विदेशी पाकिस्तानियों को भी धोखा दिया है क्योंकि उन्हें देश में अराजकता पैदा करने के लिए दान के पैसे का इस्तेमाल करते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया था।

भारतीय उच्चायुक्त खैबर पख्तूनख्वा गए तो होगा रेड कारपेट स्वागत

पेशावर (पाकिस्तान)। अमेरिकी राजदूत डोनाल्ड ब्लोम के स्वागत में रेड कारपेट बिछाने पर आलोचना झेल रही खैबर पख्तूनख्वा (केपीके) सरकार ने सोमवार को सफाई दी कि वह प्रांत की आधिकारिक यात्रा पर आए थे। उनका किसी पार्टी की राजनीति से संपर्क नहीं है। सरकार ने साथ ही कहा कि कल अगर भारतीय उच्चायुक्त भी ऐसी यात्रा पर आएंगे तो उनका भी ऐसा ही स्वागत होगा। प्रांत में इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) की सरकार है।

इमरान ने अमेरिका के बाइडन प्रशासन पर आरोप लगाया था कि उसने साजिश रचकर उनकी सरकार को गिराया है। पिछले सप्ताह केपीके के सीएम महमूद खान के अमेरिकी राजदूत के स्वागत में रेड कारपेट बिछाने की विपक्षी पार्टियां और सोशल मीडिया उपयोगकर्ता जमकर आलोचना कर रहे हैं। केपीके सरकार के प्रवक्ता बैरिस्टर मोहम्मद अली सैफ ने प्रांत में कई कल्याणकारी योजनाओं के लिए अमेरिकी सरकार को धन्यवाद भी दिया।

foreign



Source link