इस्राइल-गाजा उग्रवादियों के बीच नाजुक संघर्ष विराम लागू, मिस्र ने की मध्यस्थता


ख़बर सुनें

गाजा में इस्राइल और फलस्तीन आतंकवादियों के बीच करीब तीन दिनों से जारी लड़ाई को खत्म करने के लिए एक नाजुक संघर्ष विराम समझौता सोमवार को हुआ। इसके बाद यहां फिलहाल हिंसा खत्म हो गई है। मिस्र की मध्यस्थता के बाद रात करीब साढ़े 11 बजे युद्धविराम लागू हुआ।

इस्राइल और हमास के बीच पिछले साल 11 दिन चली लड़ाई के बाद इस्राइल और गाजा उग्रवादियों के बीच यह सबसे खराब संघर्ष था। संघर्ष विराम लागू होने से कुछ मिनट पहले तक इस्राइल ने क्षेत्र में कई हवाई हमले किए। इस्राइल ने कहा, यदि युद्धविराम का उल्लंघन होता है तो वह इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देगा। इस्राइल ने गाजा में शुक्रवार को हमले शुरू किए थे जबकि ईरान समर्थित फलस्तीनी जिहादी समूह ने इसके जवाब में उस पर सैकड़ों रॉकेट दागे। गाजा पर शासन करने वाला उग्रवादी समूह ‘हमास’ इस संघर्ष से किनारा करता दिखाई दिया। इस्राइल ने जिहादी गुट के दो शीर्ष कमांडरों को मार गिराया था।

हवाई हमलों में गाजा के 27 नागरिक और 24 आतंकी मारे गए
इस्राइली रक्षा बलों (आईडीएफ) ने कहा है कि इस्राइल और गाजा स्थित आतंकियों के बीच हालिया दौर की लड़ाई में गाजा में 51 लोग मारे गए जिनमें 24 जिहादी आतंकी गुट से संबद्ध थे। टाइम्स ऑफ इस्राइल ने बताया कि सेना के आंकड़े अनुमानित हैं। आईडीएफ के मुताबिक, इस लड़ाई में कई बच्चों समेत गाजा के 27 आम नागरिक भी मारे गए हैं। प्रवक्ता रान कोचव ने कहा कि फलस्तीन से हुए हमलों में भी ज्यादातर गाजा के लोग ही मारे गए। सेना ने बताया कि गाजा पट्टी में आतंकियों ने इस्राइल की तरफ 1,100 रॉकेट दागे जिनमें से 200 रॉकेट गाजा पट्टी क्षेत्र में ही गिर गए।

विस्तार

गाजा में इस्राइल और फलस्तीन आतंकवादियों के बीच करीब तीन दिनों से जारी लड़ाई को खत्म करने के लिए एक नाजुक संघर्ष विराम समझौता सोमवार को हुआ। इसके बाद यहां फिलहाल हिंसा खत्म हो गई है। मिस्र की मध्यस्थता के बाद रात करीब साढ़े 11 बजे युद्धविराम लागू हुआ।

इस्राइल और हमास के बीच पिछले साल 11 दिन चली लड़ाई के बाद इस्राइल और गाजा उग्रवादियों के बीच यह सबसे खराब संघर्ष था। संघर्ष विराम लागू होने से कुछ मिनट पहले तक इस्राइल ने क्षेत्र में कई हवाई हमले किए। इस्राइल ने कहा, यदि युद्धविराम का उल्लंघन होता है तो वह इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देगा। इस्राइल ने गाजा में शुक्रवार को हमले शुरू किए थे जबकि ईरान समर्थित फलस्तीनी जिहादी समूह ने इसके जवाब में उस पर सैकड़ों रॉकेट दागे। गाजा पर शासन करने वाला उग्रवादी समूह ‘हमास’ इस संघर्ष से किनारा करता दिखाई दिया। इस्राइल ने जिहादी गुट के दो शीर्ष कमांडरों को मार गिराया था।

हवाई हमलों में गाजा के 27 नागरिक और 24 आतंकी मारे गए

इस्राइली रक्षा बलों (आईडीएफ) ने कहा है कि इस्राइल और गाजा स्थित आतंकियों के बीच हालिया दौर की लड़ाई में गाजा में 51 लोग मारे गए जिनमें 24 जिहादी आतंकी गुट से संबद्ध थे। टाइम्स ऑफ इस्राइल ने बताया कि सेना के आंकड़े अनुमानित हैं। आईडीएफ के मुताबिक, इस लड़ाई में कई बच्चों समेत गाजा के 27 आम नागरिक भी मारे गए हैं। प्रवक्ता रान कोचव ने कहा कि फलस्तीन से हुए हमलों में भी ज्यादातर गाजा के लोग ही मारे गए। सेना ने बताया कि गाजा पट्टी में आतंकियों ने इस्राइल की तरफ 1,100 रॉकेट दागे जिनमें से 200 रॉकेट गाजा पट्टी क्षेत्र में ही गिर गए।



Source link