Hamara Kasba I Hindi News I Bundelkhand News

इमाम हुसैन की याद में निकाली गई छड़, लगाए या अली या हुसैन के नारे

ByNews Desk

Aug 8, 2022


ख़बर सुनें

कदौरा। मोहर्रम की आठ तारीख को कस्बा स्थित सज्जन चौक के बड़े इमामबाड़े से छड़ों का जुलूस निकाला गया।
रविवार की दोपहर जुलूस गाड़ीखाना स्थित बड़े इमामबाड़े से शुरू होकर पूरे नगर में भ्रमण कर अपने स्थान पर पहुंचा। इलाहाबाद बैंक के सामने सभी छड़ों का लोगों ने प्रदर्शन किया। सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वालों का कमेटी के अध्यक्ष कल्लू कामरेड ने सम्मान किया। इस दौरान बाबू खान, रहीस, शहजादे, शरीफ खान,सगीर खान, राज खान, मैजान खान, जीशान खान आदि मौजूद रहे।
जालौन संवाद के अनुसार- शनिवार की रात रापटगंज में जायदा बेगम के यहां से अलम उठाया गया। इसके बाद अन्य स्थानों पर रखे अलम उनके साथ पूर्व निर्धारित मार्ग पर निकाले गए। अकीदतमंदों ने अलम के पास पहुंचकर फातिहा पढ़ी। इसके बाद रविवार की दोपहर कल्लू व मल्लू पठान के अलावा अजमेरी, अख्तर, छोटे खां, इस्माइल, ख्वाजू, शहाबुद्दीन के यहां रखी गई छड़ों पर महिलाओं और अकीदतमंदों ने दुपट्टा बांधकर अपनी मुराद पूरी होने की कामना की।

कदौरा। मोहर्रम की आठ तारीख को कस्बा स्थित सज्जन चौक के बड़े इमामबाड़े से छड़ों का जुलूस निकाला गया।

रविवार की दोपहर जुलूस गाड़ीखाना स्थित बड़े इमामबाड़े से शुरू होकर पूरे नगर में भ्रमण कर अपने स्थान पर पहुंचा। इलाहाबाद बैंक के सामने सभी छड़ों का लोगों ने प्रदर्शन किया। सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वालों का कमेटी के अध्यक्ष कल्लू कामरेड ने सम्मान किया। इस दौरान बाबू खान, रहीस, शहजादे, शरीफ खान,सगीर खान, राज खान, मैजान खान, जीशान खान आदि मौजूद रहे।

जालौन संवाद के अनुसार- शनिवार की रात रापटगंज में जायदा बेगम के यहां से अलम उठाया गया। इसके बाद अन्य स्थानों पर रखे अलम उनके साथ पूर्व निर्धारित मार्ग पर निकाले गए। अकीदतमंदों ने अलम के पास पहुंचकर फातिहा पढ़ी। इसके बाद रविवार की दोपहर कल्लू व मल्लू पठान के अलावा अजमेरी, अख्तर, छोटे खां, इस्माइल, ख्वाजू, शहाबुद्दीन के यहां रखी गई छड़ों पर महिलाओं और अकीदतमंदों ने दुपट्टा बांधकर अपनी मुराद पूरी होने की कामना की।



Source link