भतीजे ने चाची को कमरे में किया बंद, बेरहमी से कर दी हत्या, खुद को भी चाकू घोंपा


ख़बर सुनें

आगरा जिले के थाना चित्राहाट के शाहपुर ब्राह्मण गांव में बृहस्पतिवार की रात महिला को कमरे में बंद कर उसके भतीजे ने चाकू से कई वार किए। खून से लथपथ चाची को देखकर उसने अपने पेट में भी चाकू घोंप लिया। दरवाजा तोड़कर पुलिस दोनों को सीएचसी बाह लेकर आई, जहां रात करीब तीन बजे महिला की मौत हो गई। मृतका के भाई ने आरोपी युवक, उसके पिता और दादी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। 
 
पुलिस के मुताबिक बृहस्पतिवार की दोपहर करीब 12 बजे शाहपुर ब्राह्मण गांव के युवक विकास ने अपनी चाची मंजू देवी पत्नी सुभाष चंद्र को कमरे में ले जाकर बंद कर लिया था। शाम 7 बजे तक दरवाजा न खोलने पर घरवालों ने पुलिस बुला ली। दरवाजा तोड़ा गया तो फर्श पर खून से लथपथ मंजू देवी पड़ी थी। उनके शरीर पर चाकू मारने के छह निशान थे। विकास के पेट में भी चाकू धंसा था। 

पुलिस दोनों को बाह सीएचसी पर भर्ती कराया। जहां से दोनों को एसएन मेडिकल कॉलेज भेज दिया। रात में करीब तीन बजे मंजू देवी की मौत हो गई। विकास की हालत गंभीर बनी है। थानाध्यक्ष चित्राहाट महेंद्र सिंह भदौरिया ने बताया कि विकास की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। वारदात के पीछे अभी और कोई वजह सामने नहीं आई है। विकास उसके पिता, दादी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।       

तीन महीने पहले पीटकर पत्नी को भगाया

तीन साल पहले विकास की शादी क्योरी की प्रीति के साथ हुई थी। दोनों के 2 बच्चे सृष्टि (2), आरव (1) हैं। प्रीति ने बताया कि पांच महीने पहले उसे पीटकर घर से निकाल दिया था। तब से मायके में रह रही थी। उसने पति के कृत्य को लेकर कहा कि जैसा किया है, वैसी सजा भुगतनी पडे़गी। मृतका की बेटी प्रियंका ने बताया कि विकास पहले अपनी पत्नी पर चाकू मार चुका है। अब मां की जान ली है। सजा मिलनी चाहिए।                                                          

आरोपी बोला- दिमाग में गर्मी चढ़ गई थी

लोग बताते हैं कि करीब ढाई साल पहले विकास की मां कमलेश का निधन हुआ था। तब से विकास चिड़चिड़ा हो गया था। पहले उसने पत्नी को चाकू मारा था। अब चाकू से चाची की जान ले ली। घायल विकास ने बताया कि दिमाग में गर्मी चढ़ गई थी। इसलिए इतनी बड़ी घटना हो गई। गलती का अहसास होने पर खुद को चाकू मारा था।

विस्तार

आगरा जिले के थाना चित्राहाट के शाहपुर ब्राह्मण गांव में बृहस्पतिवार की रात महिला को कमरे में बंद कर उसके भतीजे ने चाकू से कई वार किए। खून से लथपथ चाची को देखकर उसने अपने पेट में भी चाकू घोंप लिया। दरवाजा तोड़कर पुलिस दोनों को सीएचसी बाह लेकर आई, जहां रात करीब तीन बजे महिला की मौत हो गई। मृतका के भाई ने आरोपी युवक, उसके पिता और दादी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। 

 

पुलिस के मुताबिक बृहस्पतिवार की दोपहर करीब 12 बजे शाहपुर ब्राह्मण गांव के युवक विकास ने अपनी चाची मंजू देवी पत्नी सुभाष चंद्र को कमरे में ले जाकर बंद कर लिया था। शाम 7 बजे तक दरवाजा न खोलने पर घरवालों ने पुलिस बुला ली। दरवाजा तोड़ा गया तो फर्श पर खून से लथपथ मंजू देवी पड़ी थी। उनके शरीर पर चाकू मारने के छह निशान थे। विकास के पेट में भी चाकू धंसा था। 

पुलिस दोनों को बाह सीएचसी पर भर्ती कराया। जहां से दोनों को एसएन मेडिकल कॉलेज भेज दिया। रात में करीब तीन बजे मंजू देवी की मौत हो गई। विकास की हालत गंभीर बनी है। थानाध्यक्ष चित्राहाट महेंद्र सिंह भदौरिया ने बताया कि विकास की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। वारदात के पीछे अभी और कोई वजह सामने नहीं आई है। विकास उसके पिता, दादी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।       



Source link