Hamara Kasba I Hindi News I Bundelkhand News

नानी-धेवती की हत्या में पुलिस का बड़ा खुलासा, बेटी-दामाद को उठाया, 20 लाख के जेवरात मिले

ByNews Desk

Aug 9, 2022


मेरठ शहर की पॉश कॉलोनी शास्त्रीनगर में रविवार की देर रात बदमाशों ने नानी कौशल (60)और धेवती तमन्ना (12)की  चाकू से गोदकर हत्या कर 50 लाख रुपये की डकैती की वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने पड़ोसी रिंकू और उसके दो साथियों को गिरफ्तार कर दस लाख रुपये और जेवरात बरामद किए हैं। वहीं पुलिस ने शक के आधार पर कौशल की बेटी स्नेहा और दामाद ईशु को हिरासत में लेकर उनकी कार से 20 लाख रुपये और जेवरात बरामद करने का दावा किया है।

नौचंदी थाना क्षेत्र के शास्त्री नगर डी-ब्लॉक में रिटायर्ड हेड कांस्टेबल रतन सिंह रहते थे। करीब दाे माह पहले उनका निधन हो गया था। घर में उनकी पत्नी कौशल सिरोही और नातिन तमन्ना रह रहे थे। रविवार देर रात कौशल और उनकी धेवती की गला काटकर हत्या कर दी गई थी। सोमवार सुबह जब काम करने वाली घर पर पहुंची तो मामले की जानकारी हुई। काम वाली महिला ने पड़ोसियों को सूचित किया। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन की।

कौशल के पति रतन सिंह सिरोही यूपी पुलिस के सेवानिवृत्त कांस्टेबल थे और जुलाई में कैंसर से उनकी मौत हो गई थी। सिरोही मूल रूप से बुलंदशहर के बीबीनगर क्षेत्र के लोहालारा गांव निवासी थे। पहली पत्नी पायल की मौत के बाद रतन सिंह सिरोही ने कौशल से शादी की थी। पायल के दो बेटे नवीन, गौरव और बेटी गुड्डी हैं। वहीं कौशल की एक बेटी स्नेहा है। स्नेहा के पति की मौत हो गई थी जिसके बाद माधवपुरम निवासी जिम ट्रेनर ईशु से शादी कर ली थी।

स्नेहा की बेटी तमन्ना अपनी नानी कौशल के साथ ही रहती थी। सोमवार सुबह करीब आठ बजे नौकरानी कौशल के घर काम के लिए पहुंची तो दरवाजा नहीं खुला। पीछे वाले रास्ते से नौकरानी ने घर में प्रवेश किया तो अंदर कौशल और तमन्ना का खून से लथ-पथ शव फर्श पर पड़ा था।

 

घर का सामान भी बिखरा हुआ था। नौकरानी ने शोर मचाया तो आसपास के लोग इकट्ठा हो गए। कौशल की बेटी स्नेहा भी पति ईशु के साथ पहुंची। आईजी प्रवीण कुमार और एसएसपी रोहित सिंह सजवाण पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। फॉरेंसिक और डॉग स्क्वॉड ने मौका-मुआयना किया।

2012 में सेवानिवृत्त हुए थे रतन सिंह

रतन सिंह 2012 में बागपत से सेवानिवृत्त हुए थे। वह दूसरी पत्नी कौशल के साथ शास्त्रीनगर में डी- ब्लॉक में ही रहते थे। परिवार में विवाद चल रहा था। रतन सिंह की दूसरी पत्नी पायल के दोनों बेटे और बेटी अलग रहते थे।



Source link