Hamara Kasba I Hindi News I Bundelkhand News

बरेली में दस साल की बच्ची के साथ दरिंदगी, दुष्कर्म के बाद झाड़ियों में फेंका

ByNews Desk

Aug 12, 2022


ख़बर सुनें

भाई के साथ घास काट रही दस वर्षीय बच्ची को अज्ञात युवक जबरन उठा ले गया और कुछ ही दूरी पर दुष्कर्म करने के बाद लहूलुहान हालत में झाड़ियों में फेंक दिया। भाई के पिता को बुलाकर लाने तक आरोपी फरार हो गया। बेहोश पड़ी मिली मासूम को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत गंभीर है। इलाके के एक गांव में रहने वाली बच्ची कक्षा पांच की छात्रा है। 

शुक्रवार शाम करीब चार बजे वह अपने पिता और 12 वर्षीय भाई के साथ खेत पर गई थी। उनके पिता धान के खेत में पानी लगाने लगे और दोनों भाई-बहन कुछ दूरी पर नहर के पास घास काटने लगे। पिता के मुताबिक उसी दौरान एक युवक बच्चों के पास पहुंचा और कहा कि गन्ने के खेत में उसका घास का गट्ठर पड़ा है, चलकर उठवा दो। बच्चों ने मना कर दिया तो बेटे को जान से मारने की धमकी देकर वह उनकी दस साल की बेटी को जबरन झाड़ियों में खींच ले गया। 

बेटा दौड़कर उन्हें बुलाकर लाया, इसमें करीब सात-आठ मिनट लग गए। जब वे लोग पहुंचे तो आरोपी वहां से भाग रहा था और बेटी झाड़ियों में खून से लथपथ पड़ी थी। वे लोग उसे लेकर घर पहुंचे और यूपी 112 को सूचना दी तो पुलिस मौके पर पहुंची। फिर बेटी को उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र फतेहगंज पश्चिमी भेजा गया, जहां से हालत गंभीर होने के कारण बरेली रेफर कर दिया गया। 

वहीं, पिता की तहरीर पर अज्ञात आरोपी के खिलाफ थाना शाही में दुष्कर्म और पॉक्सो की धारा में रिपोर्ट दर्ज की गई है। घटना के बाद एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने भी घटनास्थल का मुआयना किया।

विस्तार

भाई के साथ घास काट रही दस वर्षीय बच्ची को अज्ञात युवक जबरन उठा ले गया और कुछ ही दूरी पर दुष्कर्म करने के बाद लहूलुहान हालत में झाड़ियों में फेंक दिया। भाई के पिता को बुलाकर लाने तक आरोपी फरार हो गया। बेहोश पड़ी मिली मासूम को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत गंभीर है। इलाके के एक गांव में रहने वाली बच्ची कक्षा पांच की छात्रा है। 

शुक्रवार शाम करीब चार बजे वह अपने पिता और 12 वर्षीय भाई के साथ खेत पर गई थी। उनके पिता धान के खेत में पानी लगाने लगे और दोनों भाई-बहन कुछ दूरी पर नहर के पास घास काटने लगे। पिता के मुताबिक उसी दौरान एक युवक बच्चों के पास पहुंचा और कहा कि गन्ने के खेत में उसका घास का गट्ठर पड़ा है, चलकर उठवा दो। बच्चों ने मना कर दिया तो बेटे को जान से मारने की धमकी देकर वह उनकी दस साल की बेटी को जबरन झाड़ियों में खींच ले गया। 

बेटा दौड़कर उन्हें बुलाकर लाया, इसमें करीब सात-आठ मिनट लग गए। जब वे लोग पहुंचे तो आरोपी वहां से भाग रहा था और बेटी झाड़ियों में खून से लथपथ पड़ी थी। वे लोग उसे लेकर घर पहुंचे और यूपी 112 को सूचना दी तो पुलिस मौके पर पहुंची। फिर बेटी को उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र फतेहगंज पश्चिमी भेजा गया, जहां से हालत गंभीर होने के कारण बरेली रेफर कर दिया गया। 

वहीं, पिता की तहरीर पर अज्ञात आरोपी के खिलाफ थाना शाही में दुष्कर्म और पॉक्सो की धारा में रिपोर्ट दर्ज की गई है। घटना के बाद एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने भी घटनास्थल का मुआयना किया।



Source link