हिमाचल विधानसभा का मानसून सत्र आज से, चुनावी साल के चलते होगा हंगामेदार


ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र बुधवार से शुरू होगा। चुनावी साल के चलते सत्र के पहले दिन ही सदन में हंगामे के आसार हैं। पहले दिन की कार्यवाही पूर्व केंद्रीय संचार राज्य मंत्री पंडित सुखराम, पूर्व विधायक रूप सिंह चौहान, मस्तराम और प्रवीण शर्मा के देहांत पर शोकोद्गार से शुरू होगी। प्रश्नकाल के लिए निर्धारित अवधि में अगर यह शोकोद्गार खत्म हुआ तो विपक्ष सारा काम रोककर निर्दलीय विधायकों के भाजपा में शामिल होने पर कार्रवाई नहीं करने या अन्य मुद्दों पर अड़ सकता है। सत्र में 10 से 13 अगस्त के बीच केवल चार बैठकें  होंगी। पहले दिन यानी बुधवार को शोकोद्गार और प्रश्नकाल के बाद बुधवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर हफ्ते भर की कार्यसूची से सदन को अवगत करवाएंगे।

विधानसभा सचिव पिछले विधानसभा सत्रों में पारित पांच विधेयकों को पटल पर रखेंगे। मुख्यमंत्री विधायकों के वेतन और भत्तों पर आयकर से संबंधित अध्यादेश को भी सदन में रखेंगे, जिसके संशोधित प्रावधान के अनुसार राज्य सरकार अब विधायकों के आयकर का भुगतान नहीं कर रही है। भाजपा विधायक रीता धीमान काठगढ़ में शिव मंदिर के नजदीक स्थापित टोल टैक्स बैरियर को अन्यत्र स्थानांतरित करने में मामले में सदन में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लाएंगी। नियम 130 के तहत कांग्रेस विधायक इंद्र दत्त लखनपाल, जगत सिंह नेगी और भाजपा विधायक विक्रम सिंह जरयाल प्रदेश के वन क्षेत्रों में लगने वाली आग और अन्य क्षेत्रों में वर्षा से हो रहे भूस्खलन और अन्य प्राकृतिक आपदाओं से संपत्तियों को हो रहे नुकसान से बचाव और राहत के लिए दी जाने वाली धनराशि बढ़ाने पर चर्चा मांगेंगे।  

सदन का सदुपयोग जनहित से जुडे़ मुद्दे उठाने के लिए करें विधायक : परमार 
विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने सर्वदलीय बैठक में सभी विधायकों से सत्र के संचालन में रचनात्मक सहयोग देने की अपील की। उन्होंने विधायकों से अपील की है कि सदन का सदुपयोग जनहित से जुडे़ मुद्दे उठाने में करें। मंगलवार को विधानसभा सचिवालय में 11 बजे सर्वदलीय बैठक का आयोजन हुआ। इसमें संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, मुख्य सचेतक बिक्रम सिंह जरयाल औरा माकपा नेता एवं विधायक राकेश सिंघा मौजूद रहे।

विधानसभा परिसर में कैबिनेट बैठक आज
हिमाचल प्रदेश कैबिनेट की बैठक बुधवार शाम विधानसभा परिसर में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में होगी। इसमें विधानसभा के मानसून सत्र में पेश किए जा रहे विधेयकों के ड्राफ्ट पर चर्चा होगी। बैठक में कर्मचारियों के मुद्दों के अलावा कई शिक्षण और स्वास्थ्य संस्थानों के स्तरोन्नयन के मुद्दे भी जाएंगे। बैठक के लिए एसएमसी शिक्षकों को कैजुअल और मेडिकल लीव देने का भी एजेंडा जा चुका है। 

विस्तार

हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र बुधवार से शुरू होगा। चुनावी साल के चलते सत्र के पहले दिन ही सदन में हंगामे के आसार हैं। पहले दिन की कार्यवाही पूर्व केंद्रीय संचार राज्य मंत्री पंडित सुखराम, पूर्व विधायक रूप सिंह चौहान, मस्तराम और प्रवीण शर्मा के देहांत पर शोकोद्गार से शुरू होगी। प्रश्नकाल के लिए निर्धारित अवधि में अगर यह शोकोद्गार खत्म हुआ तो विपक्ष सारा काम रोककर निर्दलीय विधायकों के भाजपा में शामिल होने पर कार्रवाई नहीं करने या अन्य मुद्दों पर अड़ सकता है। सत्र में 10 से 13 अगस्त के बीच केवल चार बैठकें  होंगी। पहले दिन यानी बुधवार को शोकोद्गार और प्रश्नकाल के बाद बुधवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर हफ्ते भर की कार्यसूची से सदन को अवगत करवाएंगे।

विधानसभा सचिव पिछले विधानसभा सत्रों में पारित पांच विधेयकों को पटल पर रखेंगे। मुख्यमंत्री विधायकों के वेतन और भत्तों पर आयकर से संबंधित अध्यादेश को भी सदन में रखेंगे, जिसके संशोधित प्रावधान के अनुसार राज्य सरकार अब विधायकों के आयकर का भुगतान नहीं कर रही है। भाजपा विधायक रीता धीमान काठगढ़ में शिव मंदिर के नजदीक स्थापित टोल टैक्स बैरियर को अन्यत्र स्थानांतरित करने में मामले में सदन में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लाएंगी। नियम 130 के तहत कांग्रेस विधायक इंद्र दत्त लखनपाल, जगत सिंह नेगी और भाजपा विधायक विक्रम सिंह जरयाल प्रदेश के वन क्षेत्रों में लगने वाली आग और अन्य क्षेत्रों में वर्षा से हो रहे भूस्खलन और अन्य प्राकृतिक आपदाओं से संपत्तियों को हो रहे नुकसान से बचाव और राहत के लिए दी जाने वाली धनराशि बढ़ाने पर चर्चा मांगेंगे।  

सदन का सदुपयोग जनहित से जुडे़ मुद्दे उठाने के लिए करें विधायक : परमार 

विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने सर्वदलीय बैठक में सभी विधायकों से सत्र के संचालन में रचनात्मक सहयोग देने की अपील की। उन्होंने विधायकों से अपील की है कि सदन का सदुपयोग जनहित से जुडे़ मुद्दे उठाने में करें। मंगलवार को विधानसभा सचिवालय में 11 बजे सर्वदलीय बैठक का आयोजन हुआ। इसमें संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, मुख्य सचेतक बिक्रम सिंह जरयाल औरा माकपा नेता एवं विधायक राकेश सिंघा मौजूद रहे।

विधानसभा परिसर में कैबिनेट बैठक आज

हिमाचल प्रदेश कैबिनेट की बैठक बुधवार शाम विधानसभा परिसर में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में होगी। इसमें विधानसभा के मानसून सत्र में पेश किए जा रहे विधेयकों के ड्राफ्ट पर चर्चा होगी। बैठक में कर्मचारियों के मुद्दों के अलावा कई शिक्षण और स्वास्थ्य संस्थानों के स्तरोन्नयन के मुद्दे भी जाएंगे। बैठक के लिए एसएमसी शिक्षकों को कैजुअल और मेडिकल लीव देने का भी एजेंडा जा चुका है। 



Source link