जीवन बीमा कंपनियों का प्रीमियम 91 फीसदी उछला, एलआईसी में दोगुना की बढ़त


ख़बर सुनें

जीवन बीमा कंपनियों का नया बिजनेस प्रीमियम जुलाई में 91 फीसदी बढ़कर 39,078 करोड़ रुपये हो गया है। बीमा नियामक भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडाई) ने बताया कि कुल 24 जीवन बीमा कंपनियों का नया प्रीमियम जुलाई, 2021 में 20,434 करोड़ रुपये था। देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी एलआईसी के प्रीमियम में दोगुना की बढ़त आई है। इसकी प्रीमियम आय 29,116 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 12,030 करोड़ रुपये थी। इसकी बाजार हिस्सेदारी 68.6 फीसदी रही है। 

23 निजी कंपनियों का प्रीमियम 19 फीसदी बढ़ा
इरडाई के आंकड़ों के अनुसार, निजी क्षेत्र की 23 कंपनियों का प्रीमियम 9,962 करोड़ रुपये जुलाई में रहा। एक साल पहले यह 8,403 करोड़ रुपये था। अप्रैल-जुलाई के दौरान सभी कंपनियों का प्रीमियम 54 फीसदी बढ़कर 1,12,753.43 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले 73,159.98 करोड़ रुपये था। इस दौरान एलआईसी का प्रीमियम 62 फीसदी बढ़कर 77,317 करोड़ रुपये रहा। जबकि निजी कं पनियों का प्रीमियम 39 फीसदी बढ़कर 35,435.75 करोड़ रुपये रहा। 

पहली तिमाही में सरकारी बैंकों का मुनाफा नौ फीसदी बढ़कर 15,306 करोड़
देश के सभी 12 सरकारी बैंकों का अप्रैल-जून तिमाही में कुल फायदा 15,306 करोड़ रुपये रहा। एक साल पहले इसी अवधि में यह 14,013 करोड़ रुपये था। आंकड़ों के मुताबिक, एसबीआई, पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) और बैंक ऑफ इंडिया का मुनाफा इस दौरान सात से 70 फीसदी तक गिरा। इनके मुनाफे में गिरावट मार्क टू मार्केट की वजह से आई। हालांकि मुनाफा में गिरावट के बाद भी एसबीआई ने सबसे ज्यादा 6,6068 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया।

बैंकों के कुल फायदे में एसबीआई का अकेले 40 फीसदी हिस्सा है। नौ बैंकों का मुनाफा तीन से 117 फीसदी के बीच बढ़ा। इसमें सबसे ज्यादा लाभ बैंक ऑफ महाराष्ट्र का बढ़ा जो दोगुना से भी ज्यादा रहा। यह फायदा 452 करोड़ रुपये था। एक साल पहले यह 208 करोड़ रुपये था। इसी दौरान बैंक ऑफ बड़ौदा का मुनाफा 79 फीसदी बढ़कर 2,168 करोड़ रुपये रहा। 2021-22 में बैंकों का कुल लाभ 66,539 करोड्ऱ रुपये रहा जो उसके पहले के साल में हुए 31,816 करोड़ की तुलना में दोगुना से भी ज्यादा है।

विस्तार

जीवन बीमा कंपनियों का नया बिजनेस प्रीमियम जुलाई में 91 फीसदी बढ़कर 39,078 करोड़ रुपये हो गया है। बीमा नियामक भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडाई) ने बताया कि कुल 24 जीवन बीमा कंपनियों का नया प्रीमियम जुलाई, 2021 में 20,434 करोड़ रुपये था। देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी एलआईसी के प्रीमियम में दोगुना की बढ़त आई है। इसकी प्रीमियम आय 29,116 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 12,030 करोड़ रुपये थी। इसकी बाजार हिस्सेदारी 68.6 फीसदी रही है। 

23 निजी कंपनियों का प्रीमियम 19 फीसदी बढ़ा

इरडाई के आंकड़ों के अनुसार, निजी क्षेत्र की 23 कंपनियों का प्रीमियम 9,962 करोड़ रुपये जुलाई में रहा। एक साल पहले यह 8,403 करोड़ रुपये था। अप्रैल-जुलाई के दौरान सभी कंपनियों का प्रीमियम 54 फीसदी बढ़कर 1,12,753.43 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले 73,159.98 करोड़ रुपये था। इस दौरान एलआईसी का प्रीमियम 62 फीसदी बढ़कर 77,317 करोड़ रुपये रहा। जबकि निजी कं पनियों का प्रीमियम 39 फीसदी बढ़कर 35,435.75 करोड़ रुपये रहा। 

पहली तिमाही में सरकारी बैंकों का मुनाफा नौ फीसदी बढ़कर 15,306 करोड़

देश के सभी 12 सरकारी बैंकों का अप्रैल-जून तिमाही में कुल फायदा 15,306 करोड़ रुपये रहा। एक साल पहले इसी अवधि में यह 14,013 करोड़ रुपये था। आंकड़ों के मुताबिक, एसबीआई, पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) और बैंक ऑफ इंडिया का मुनाफा इस दौरान सात से 70 फीसदी तक गिरा। इनके मुनाफे में गिरावट मार्क टू मार्केट की वजह से आई। हालांकि मुनाफा में गिरावट के बाद भी एसबीआई ने सबसे ज्यादा 6,6068 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया।

बैंकों के कुल फायदे में एसबीआई का अकेले 40 फीसदी हिस्सा है। नौ बैंकों का मुनाफा तीन से 117 फीसदी के बीच बढ़ा। इसमें सबसे ज्यादा लाभ बैंक ऑफ महाराष्ट्र का बढ़ा जो दोगुना से भी ज्यादा रहा। यह फायदा 452 करोड़ रुपये था। एक साल पहले यह 208 करोड़ रुपये था। इसी दौरान बैंक ऑफ बड़ौदा का मुनाफा 79 फीसदी बढ़कर 2,168 करोड़ रुपये रहा। 2021-22 में बैंकों का कुल लाभ 66,539 करोड्ऱ रुपये रहा जो उसके पहले के साल में हुए 31,816 करोड़ की तुलना में दोगुना से भी ज्यादा है।



Source link

Leave a Comment