‘द हॉर्स विस्परर’ के लेखक निकोलस इवांस का निधन, 72 वर्ष की आयु में ली अंतिम सांस


ख़बर सुनें

कला की दुनिया से एक दुखद खबर सामने आई है। रिपोर्ट के मुताबिक, मशहूर ब्रिटिश लेखक और पत्रकार रहे निकोलस इवांस का 72 वर्ष की आयु में निधन हो गया। जानकारी सामने आई है कि 9 अगस्त को उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उनका निधन हो गया। निकोलस इवांस ने वैसे तो कई रचनाए की हैं लेकिन उन्हें 1995 में ‘द हॉर्स विस्परर’ लिखने के लिए जाना जाता है। इसकी 20 मिलियन प्रतियां छपवाईं गई थीं, जिसका तकरीबन 40 भाषाओं में अनुवाद किया गया था। उनकी इस कृति पर फिल्म भी बनाई गई है। 

द हॉर्स विस्परर
निकोलस इवांस के द्वारा लिखी गई ‘द हॉर्स विस्परर’ पर 1998 में एक हॉलीवुड फिल्म बनाई गई। जिसे रॉबर्ट रेड फोर्ड द्वारा निर्देशित किया गया। फिल्म की कहानी कुछ इस तरह से थी कि एनी की बेटी ग्रेस और उसका घोड़ा एक गंभीर दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं जो उसके दिमाग पर काफी गहरा असर डालता है। तब एनी कानाफूसी करने वाले टॉम एक घोड़े की मदद लेती है जो उसे संभलने में मदद करता है। 15 मई 1998 में रिलीज हुई इस फिल्म को समीक्षकों से भी सकारात्मक समीक्षा प्राप्त हुई थी और इस फिल्म ने दुनियाभर में तकरीबन 186 मिलियन डॉलर की कमाई की थी।

उपन्यासकार निकोलस इवांस न सिर्फ लेखक थे बल्कि वह 1970 में एक दशक तक पत्रकार के रूप में भी कार्य कर चुके थे। उन्होंने बेरुत युद्ध को बई कवर किया था। उन्होंने “मर्डर बाय द बुक,” “एक्ट ऑफ बेट्रेयल,” ‘सीक्रेट वेपन’ और .जस्ट लाइक ए वूमन” के लिए अपने पहले उपन्यास पर काम शुरू करने से पहले एक पटकथा लेखक और टेलीविजन निर्माता के रूप में काम किया।

कला की दुनिया से एक दुखद खबर सामने आई है। रिपोर्ट के मुताबिक, मशहूर ब्रिटिश लेखक और पत्रकार रहे निकोलस इवांस का 72 वर्ष की आयु में निधन हो गया। जानकारी सामने आई है कि 9 अगस्त को उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उनका निधन हो गया। निकोलस इवांस ने वैसे तो कई रचनाए की हैं लेकिन उन्हें 1995 में ‘द हॉर्स विस्परर’ लिखने के लिए जाना जाता है। इसकी 20 मिलियन प्रतियां छपवाईं गई थीं, जिसका तकरीबन 40 भाषाओं में अनुवाद किया गया था। उनकी इस कृति पर फिल्म भी बनाई गई है। 

द हॉर्स विस्परर

निकोलस इवांस के द्वारा लिखी गई ‘द हॉर्स विस्परर’ पर 1998 में एक हॉलीवुड फिल्म बनाई गई। जिसे रॉबर्ट रेड फोर्ड द्वारा निर्देशित किया गया। फिल्म की कहानी कुछ इस तरह से थी कि एनी की बेटी ग्रेस और उसका घोड़ा एक गंभीर दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं जो उसके दिमाग पर काफी गहरा असर डालता है। तब एनी कानाफूसी करने वाले टॉम एक घोड़े की मदद लेती है जो उसे संभलने में मदद करता है। 15 मई 1998 में रिलीज हुई इस फिल्म को समीक्षकों से भी सकारात्मक समीक्षा प्राप्त हुई थी और इस फिल्म ने दुनियाभर में तकरीबन 186 मिलियन डॉलर की कमाई की थी।

उपन्यासकार निकोलस इवांस न सिर्फ लेखक थे बल्कि वह 1970 में एक दशक तक पत्रकार के रूप में भी कार्य कर चुके थे। उन्होंने बेरुत युद्ध को बई कवर किया था। उन्होंने “मर्डर बाय द बुक,” “एक्ट ऑफ बेट्रेयल,” ‘सीक्रेट वेपन’ और .जस्ट लाइक ए वूमन” के लिए अपने पहले उपन्यास पर काम शुरू करने से पहले एक पटकथा लेखक और टेलीविजन निर्माता के रूप में काम किया।



Source link

Leave a Comment