Pm मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति से की बात, जंगल की आग से निपटने में मदद का आश्वासन दिया


ख़बर सुनें

फ्रांस में लगातार बढ़ रहे तापमान के कारण जंगलों में लगी भीषण आग से निपटने के लिए भारत ने फ्रांस के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताई है। मंगलवार को पीएम मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से बात की। इस दौरान दोनों वैश्विक नेताओं के बीच कई मुद्दों पर चर्चा हुई। दोनों नेताओं ने भारत-फ्रांस रणनीतिक साझेदारी और वैश्विक और क्षेत्रीय महत्व के मुद्दों सहित खाद्य और उर्जा सुरक्षा पर भी वार्ता की। गौरतलब है कि इससे एक दिन पहले फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने ट्वीट करके भारतीयों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी थीं। 

पीएम मोदी बोले- भारत फ्रांस के साथ
मंगलवार को पीएम मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से बात की। इस दौरान उन्होंने फ्रांस के जंगलों में लगी विनाशकारी आग से निपटने में फ्रांस के साथ भारत की एकजुटता से राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को अवगत कराया। उन्होंने कहा भारत फ्रांस के साथ है। पीएम मोदी ने ट्वीट करके इस वार्ता के बारे में बताया। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि,’ हमने भारत-फ्रांस रणनीतिक साझेदारी और वैश्विक और क्षेत्रीय महत्व के अन्य मुद्दों के तहत चल रहे द्विपक्षीय सहयोग पर चर्चा की।’ वार्ता में दोनों नेता खाद्य और ऊर्जा सुरक्षा की वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए मिलकर काम करने पर सहमत हुए। पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में कहा कि, “राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और मैं भी खाद्य और ऊर्जा सुरक्षा की वैश्विक चुनौतियों का जवाब देने के लिए मिलकर सहयोग करने पर सहमत हुए।”

फ्रांस के राष्ट्रपति ने भारत को दी थी शुभकामनाएं
पीएम मोदी के साथ वार्ता से एक दिन पहले फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने भारत को 76वें स्वतंत्रता दिवस पर बधाई दी थी। साथ ही उन्होंने भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाए रखने की बात भी कही थी। उन्होंने अपने ट्वीट में पिछले 75 वर्षों में भारत की आश्चर्यजनक उपलब्धि की सराहना करते हुए कहा था कि ‘प्रिय मित्र नरेंद्र मोदी, भारत के प्रिय लोगों, आपके स्वतंत्रता दिवस पर बधाई! जैसा कि आप गर्व से पिछले 75 वर्षों में भारत की आश्चर्यजनक उपलब्धियों का जश्न मना रहे हैं, आप हमेशा फ्रांस पर भरोसा कर सकते हैं कि वह हमेशा आपका साथ देगा।” मैक्रों ने भारत को शुभकामनाएं देते हुए दो ट्वीट किए थे। पहला ट्वीट उन्होंने अंग्रेजी में और दूसरा हिंदी में किया। 

गौरतलब है कि भारत और फ्रांस के पारंपरिक रूप से घनिष्ठ और मैत्रीपूर्ण संबंध हैं। रक्षा और सुरक्षा सहयोग, अंतरिक्ष सहयोग और असैन्य परमाणु सहयोग के क्षेत्र फ्रांस के साथ हमारी सामरिक साझेदारी के प्रमुख स्तंभ हैं। भारत और फ्रांस सहयोग के नए क्षेत्रों जैसे हिंद महासागर क्षेत्र में सुरक्षा, अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन सहित जलवायु परिवर्तन, और दूसरों के बीच सतत विकास में तेजी से लगे हुए हैं। 

विस्तार

फ्रांस में लगातार बढ़ रहे तापमान के कारण जंगलों में लगी भीषण आग से निपटने के लिए भारत ने फ्रांस के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताई है। मंगलवार को पीएम मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से बात की। इस दौरान दोनों वैश्विक नेताओं के बीच कई मुद्दों पर चर्चा हुई। दोनों नेताओं ने भारत-फ्रांस रणनीतिक साझेदारी और वैश्विक और क्षेत्रीय महत्व के मुद्दों सहित खाद्य और उर्जा सुरक्षा पर भी वार्ता की। गौरतलब है कि इससे एक दिन पहले फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने ट्वीट करके भारतीयों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी थीं। 

पीएम मोदी बोले- भारत फ्रांस के साथ

मंगलवार को पीएम मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से बात की। इस दौरान उन्होंने फ्रांस के जंगलों में लगी विनाशकारी आग से निपटने में फ्रांस के साथ भारत की एकजुटता से राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को अवगत कराया। उन्होंने कहा भारत फ्रांस के साथ है। पीएम मोदी ने ट्वीट करके इस वार्ता के बारे में बताया। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि,’ हमने भारत-फ्रांस रणनीतिक साझेदारी और वैश्विक और क्षेत्रीय महत्व के अन्य मुद्दों के तहत चल रहे द्विपक्षीय सहयोग पर चर्चा की।’ वार्ता में दोनों नेता खाद्य और ऊर्जा सुरक्षा की वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए मिलकर काम करने पर सहमत हुए। पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में कहा कि, “राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और मैं भी खाद्य और ऊर्जा सुरक्षा की वैश्विक चुनौतियों का जवाब देने के लिए मिलकर सहयोग करने पर सहमत हुए।”

फ्रांस के राष्ट्रपति ने भारत को दी थी शुभकामनाएं

पीएम मोदी के साथ वार्ता से एक दिन पहले फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने भारत को 76वें स्वतंत्रता दिवस पर बधाई दी थी। साथ ही उन्होंने भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाए रखने की बात भी कही थी। उन्होंने अपने ट्वीट में पिछले 75 वर्षों में भारत की आश्चर्यजनक उपलब्धि की सराहना करते हुए कहा था कि ‘प्रिय मित्र नरेंद्र मोदी, भारत के प्रिय लोगों, आपके स्वतंत्रता दिवस पर बधाई! जैसा कि आप गर्व से पिछले 75 वर्षों में भारत की आश्चर्यजनक उपलब्धियों का जश्न मना रहे हैं, आप हमेशा फ्रांस पर भरोसा कर सकते हैं कि वह हमेशा आपका साथ देगा।” मैक्रों ने भारत को शुभकामनाएं देते हुए दो ट्वीट किए थे। पहला ट्वीट उन्होंने अंग्रेजी में और दूसरा हिंदी में किया। 

गौरतलब है कि भारत और फ्रांस के पारंपरिक रूप से घनिष्ठ और मैत्रीपूर्ण संबंध हैं। रक्षा और सुरक्षा सहयोग, अंतरिक्ष सहयोग और असैन्य परमाणु सहयोग के क्षेत्र फ्रांस के साथ हमारी सामरिक साझेदारी के प्रमुख स्तंभ हैं। भारत और फ्रांस सहयोग के नए क्षेत्रों जैसे हिंद महासागर क्षेत्र में सुरक्षा, अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन सहित जलवायु परिवर्तन, और दूसरों के बीच सतत विकास में तेजी से लगे हुए हैं। 



Source link