Hamara Kasba I Hindi News I Bundelkhand News

अपने आस-पास ज्यादा सुरक्षा से परेशान थे सलमान रुश्दी, 2001 में ही की थी शिकायत

ByNews Desk

Aug 13, 2022


ख़बर सुनें

अंग्रेजी भाषा के मशहूर लेखक सलमान रुश्दी पर अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान चाकू से हमला किया गया। मशहूर लेखक पर हमले के बाद बहुत से सवाल खड़े हो रहे हैं। वहीं, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि ‘द सैटेनिक वर्सेज’ के लेखक सलमान रुश्दी ने अपने आस-पास अत्यधिक सुरक्षा होने से परेशान थे। वे कई बार इसे लेकर शिकायत भी कर चुके थे। 

2001 में की थी शिकायत
द न्यूयॉर्क पोस्ट ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि साल 2001 में, सलमान रुश्दी ने सार्वजनिक रूप से अपने आस-पास बहुत अधिक सुरक्षा होने की शिकायत की थी। रिपोर्ट के मुताबिक, प्राग राइटर्स फेस्टिवल में भाग लेने के दौरान उन्होंने संवाददाताओं से कहा था कि यहां आने के लिए मेरे चारों ओर एक बड़ा सुरक्षा घेरा है। मुझे लगता है कि यह वास्तव में अनावश्यक और अत्यधिक था।

चौटाउक्वा संस्थान में सुरक्षा को लेकर खड़े हुए सवाल
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शुक्रवार को उनपर हुए हमले के बाद मेजबान चौटाउक्वा संस्थान’ में सुरक्षा सावधानियों को लेकर सवाल उठे थे। जिसके बाद आयोजनकर्ता संस्था ने बैग चेक और मेटल डिटेक्टर सहित बुनियादी सुरक्षा उपायों के लिए सिफारिशों को खारिज कर दिया था। आयोजनकर्ताओं का कहना था कि इससे वक्ताओं और दर्शकों के बीच विभाजन पैदा हो जाएगा। इसके अलावा उन्हें यह भी डर था कि इससे संस्थान की संस्कृति बदल जाएगी।

कल हुआ था हमला
गौरतलब है कि अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान अंग्रेजी भाषा के मशहूर लेखक सलमान रुश्दी पर हमला किया गया था। एक कार्यक्रम के दौरान उन पर एक के बाद एक चाकू से कई वार किए गए। रुश्दी पर उस समय हमला किया गया, जब वह पश्चिमी न्यूयॉर्क में आयोजित एक कार्यक्रम में व्याख्यान देने वाले थे। फिलहाल, अस्पताल में रुश्दी की सर्जरी की जा चुकी है और उनको वेंटिलेटर पर रखा गया है। वहीं हमलावर की पहचान न्यू जर्सी के 24 वर्षीय हादी मतार के तौर पर हुई है। 

इस किताब से जुड़ा है मामला
मशहूर लेखक पर हमला दशकों पहले लिखी किताब सैटेनिक वर्सेज से जुड़ा है। रुश्दी का यह उपन्यास 1988 में प्रकाशित हुआ था। इसी के साथ ही यह धर्म विशेष द्वारा की गई आलोचना का शिकार हुआ। 1989 में ही रुश्दी के खिलाफ़ फतवा जारी कर दिया गया था।

विस्तार

अंग्रेजी भाषा के मशहूर लेखक सलमान रुश्दी पर अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान चाकू से हमला किया गया। मशहूर लेखक पर हमले के बाद बहुत से सवाल खड़े हो रहे हैं। वहीं, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि ‘द सैटेनिक वर्सेज’ के लेखक सलमान रुश्दी ने अपने आस-पास अत्यधिक सुरक्षा होने से परेशान थे। वे कई बार इसे लेकर शिकायत भी कर चुके थे। 

2001 में की थी शिकायत

द न्यूयॉर्क पोस्ट ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि साल 2001 में, सलमान रुश्दी ने सार्वजनिक रूप से अपने आस-पास बहुत अधिक सुरक्षा होने की शिकायत की थी। रिपोर्ट के मुताबिक, प्राग राइटर्स फेस्टिवल में भाग लेने के दौरान उन्होंने संवाददाताओं से कहा था कि यहां आने के लिए मेरे चारों ओर एक बड़ा सुरक्षा घेरा है। मुझे लगता है कि यह वास्तव में अनावश्यक और अत्यधिक था।

चौटाउक्वा संस्थान में सुरक्षा को लेकर खड़े हुए सवाल

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शुक्रवार को उनपर हुए हमले के बाद मेजबान चौटाउक्वा संस्थान’ में सुरक्षा सावधानियों को लेकर सवाल उठे थे। जिसके बाद आयोजनकर्ता संस्था ने बैग चेक और मेटल डिटेक्टर सहित बुनियादी सुरक्षा उपायों के लिए सिफारिशों को खारिज कर दिया था। आयोजनकर्ताओं का कहना था कि इससे वक्ताओं और दर्शकों के बीच विभाजन पैदा हो जाएगा। इसके अलावा उन्हें यह भी डर था कि इससे संस्थान की संस्कृति बदल जाएगी।

कल हुआ था हमला

गौरतलब है कि अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान अंग्रेजी भाषा के मशहूर लेखक सलमान रुश्दी पर हमला किया गया था। एक कार्यक्रम के दौरान उन पर एक के बाद एक चाकू से कई वार किए गए। रुश्दी पर उस समय हमला किया गया, जब वह पश्चिमी न्यूयॉर्क में आयोजित एक कार्यक्रम में व्याख्यान देने वाले थे। फिलहाल, अस्पताल में रुश्दी की सर्जरी की जा चुकी है और उनको वेंटिलेटर पर रखा गया है। वहीं हमलावर की पहचान न्यू जर्सी के 24 वर्षीय हादी मतार के तौर पर हुई है। 

इस किताब से जुड़ा है मामला

मशहूर लेखक पर हमला दशकों पहले लिखी किताब सैटेनिक वर्सेज से जुड़ा है। रुश्दी का यह उपन्यास 1988 में प्रकाशित हुआ था। इसी के साथ ही यह धर्म विशेष द्वारा की गई आलोचना का शिकार हुआ। 1989 में ही रुश्दी के खिलाफ़ फतवा जारी कर दिया गया था।



Source link