Hamara Kasba I Hindi News I Bundelkhand News

फ्लैट से कूड़ा उठवाएंगे तो देने होंगे 150 रुपये, नगर निगम ने नई कंपनी से किया करार

ByNews Desk

Aug 13, 2022


ख़बर सुनें

ताजनगरी की बहुमंजिला इमारतों के फ्लैट से कूड़ा उठाना बंद कर दिया गया है। निजी कंपनी स्वच्छता कॉरपोरेशन अब तक निशुल्क कूड़ा उठा रही थी, लेकिन अब नगर निगम ने एक अन्य निजी कंपनी नेशन वाइड वेस्ट प्राइवेट लिमिटेड से करार किया है, जो बल्क वेस्ट जनरेटर यानी होटल, बरातघर, नर्सिंग होम, बहुमंजिला इमारतों से कचरा उठाने का काम करेगी। 

जिन फ्लैट से अब तक निशुल्क कचरा उठ रहा था, यह कंपनी उन फ्लैट से 150 रुपये प्रति माह का चार्ज वसूलेगी। मल्टीस्टोरी इमारतों की रेजीडेंट वेलफेयर सोसाइटियों ने एग्रीमेंट नहीं किया है, इस वजह से कचरा नहीं उठाया जा रहा। रक्षाबंधन के त्योहार पर इन इमारतों के फ्लैट और बाहर कचरा जमा है, जिसकी दुर्गंध के कारण लोग बेहाल हैं और नगर निगम से इसके निदान की मांग कर रहे हैं।

छह रुपये किलो था रेट, अब 150 रुपये फिक्स

नगर निगम के पास नीरव निकुंज, स्पेस टावर समेत बहुमंजिला इमारतों से कचरा न लेने की शिकायतें पहुंची। सोसायटी से नेशनवाइड वेस्ट कंपनी 6 रुपये किलो कचरा लेने का चार्ज लेने का करार कर चुकी है, लेकिन सोसायटी इस रेट पर तैयार नहीं हुई। इस पर 150 रुपये प्रति फ्लैट प्रति माह का रेट तय कर दिया गया।

आरडब्ल्यूए स्वच्छता कॉरपोरेशन के लिए तय 60 रुपये प्रति फ्लैट के रेट पर तैयार हैं, लेकिन वह ढाई गुना की बढ़ोतरी पर असहमत हैं। आरडब्ल्यूए के पदाधिकारियों का आरोप है कि प्रदेश सरकार के एक मंत्री के साले की कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए नगर निगम ने यह करार किया है, जो लोगों पर बोझ डाल रहा है।

पहले जैसी व्यवस्था बनाएं

स्पेस टावर रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष आरएन खंडेलवाल ने कहा कि स्वच्छता कॉरपोरेशन ने दस दिनों से कचरा उठाना बंद कर दिया है। त्योहार पर कचरे की दुर्गंध से परेशान हैं। निगम में और सीएम पोर्टल पर शिकायत कर दी लेकि कोई कचरा लेने नहीं आ रहा। जैसे पहले कचरा उठता था, वैसे ही उठाएं। 

डस्टबिन में डालेंगे कचरा

नीरज निकुंज निवासी अंशुल शर्मा ने कहा कि पुरानी कंपनी को मल्टीस्टोरी से कचरा लेने के लिए मना कर दिया गया है। नई कंपनी के पास गाड़ियां नहीं है। वह करार करने की जिद पर अड़ी है। वह पहले कचरा उठाए, फिर करार करेंगे, अन्यथा डस्टबिन में जाकर ही कचरा डालने का विकल्प है। 

एग्रीमेंट पर उठेगा कचरा

अपर नगर आयुक्त एसपी यादव ने कहा कि बहुमंजिला इमारतें, अस्पताल, होटल ये सभी बल्क वेस्ट जनरेटर हैं। इनके यहां से कचरा नेशन वाइड वेस्ट कंपनी को उठाना है। रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशनों को इस कंपनी से एग्रीमेंट करना होगा। पहले 6 रुपये किलो का रेट था, लेकिन हमने सहमति बनाकर हर फ्लैट के 150 रुपये तय किए हैं। एग्रीमेंट होगा तो कचरा उठेगा। 

विस्तार

ताजनगरी की बहुमंजिला इमारतों के फ्लैट से कूड़ा उठाना बंद कर दिया गया है। निजी कंपनी स्वच्छता कॉरपोरेशन अब तक निशुल्क कूड़ा उठा रही थी, लेकिन अब नगर निगम ने एक अन्य निजी कंपनी नेशन वाइड वेस्ट प्राइवेट लिमिटेड से करार किया है, जो बल्क वेस्ट जनरेटर यानी होटल, बरातघर, नर्सिंग होम, बहुमंजिला इमारतों से कचरा उठाने का काम करेगी। 

जिन फ्लैट से अब तक निशुल्क कचरा उठ रहा था, यह कंपनी उन फ्लैट से 150 रुपये प्रति माह का चार्ज वसूलेगी। मल्टीस्टोरी इमारतों की रेजीडेंट वेलफेयर सोसाइटियों ने एग्रीमेंट नहीं किया है, इस वजह से कचरा नहीं उठाया जा रहा। रक्षाबंधन के त्योहार पर इन इमारतों के फ्लैट और बाहर कचरा जमा है, जिसकी दुर्गंध के कारण लोग बेहाल हैं और नगर निगम से इसके निदान की मांग कर रहे हैं।

छह रुपये किलो था रेट, अब 150 रुपये फिक्स

नगर निगम के पास नीरव निकुंज, स्पेस टावर समेत बहुमंजिला इमारतों से कचरा न लेने की शिकायतें पहुंची। सोसायटी से नेशनवाइड वेस्ट कंपनी 6 रुपये किलो कचरा लेने का चार्ज लेने का करार कर चुकी है, लेकिन सोसायटी इस रेट पर तैयार नहीं हुई। इस पर 150 रुपये प्रति फ्लैट प्रति माह का रेट तय कर दिया गया।



Source link