साधन सहकारी समिति केंद्र में खातेधारकों से दस लाख हड़पे


ख़बर सुनें

उरई/मुहम्मदाबाद। साधन सहकारी समिति डकोर के खाताधारकों से 10 लाख की धोखाधड़ी के मामले में पुलिस ने दो कर्मचारियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।
अपर जिला सहकारी समिति अधिकारी ने आरोप लगाते हुए तहरीर दी। पुलिस ने प्राथमिक जांच में कर्मचारियों को दोषी पाया है।
साधन सहकारी समिति डकोर में संचालित सहकारी निक्षेप केंद्र में हुई अनियमितता की जांच के लिए उपमहाप्रबंधक जेडीसी बैंक जयवीर सिंह ने जांच बैठा दी थी।
अपर जिला सहकारी अधिकारी हरदास यादव को जांच अधिकारी बनाया था। जांच रिपोर्ट में चंद्रशेखर विश्वकर्मा नन कैडर सचिव डकोर और आंकिक सुरेश वर्मा की मिलीभगत पाई।
दोनों ने खाताधारकों के दस लाख 19 हजार रुपये हड़प लिए। केंद्र के 14 बचत खातों में ओवरड्राफ्ट दर्शाकर रुपये का गबन किया गया। जांच अधिकारी ने नन कैडर चंद्रशेखर विश्वकर्मा और आंकिक प्रभारी सुरेश वर्मा के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

उरई/मुहम्मदाबाद। साधन सहकारी समिति डकोर के खाताधारकों से 10 लाख की धोखाधड़ी के मामले में पुलिस ने दो कर्मचारियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।

अपर जिला सहकारी समिति अधिकारी ने आरोप लगाते हुए तहरीर दी। पुलिस ने प्राथमिक जांच में कर्मचारियों को दोषी पाया है।

साधन सहकारी समिति डकोर में संचालित सहकारी निक्षेप केंद्र में हुई अनियमितता की जांच के लिए उपमहाप्रबंधक जेडीसी बैंक जयवीर सिंह ने जांच बैठा दी थी।

अपर जिला सहकारी अधिकारी हरदास यादव को जांच अधिकारी बनाया था। जांच रिपोर्ट में चंद्रशेखर विश्वकर्मा नन कैडर सचिव डकोर और आंकिक सुरेश वर्मा की मिलीभगत पाई।

दोनों ने खाताधारकों के दस लाख 19 हजार रुपये हड़प लिए। केंद्र के 14 बचत खातों में ओवरड्राफ्ट दर्शाकर रुपये का गबन किया गया। जांच अधिकारी ने नन कैडर चंद्रशेखर विश्वकर्मा और आंकिक प्रभारी सुरेश वर्मा के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई है।



Source link