Hamara Kasba I Hindi News I Bundelkhand News

Tiktok के मॉडरेटर का बड़ा खुलासा, कहा- प्रशिक्षण में बच्चों के यौन शोषण वाले वीडियो दिखाता है टिकटॉक

ByNews Desk

Aug 7, 2022


ख़बर सुनें

चीनी शॉर्ट-फॉर्म वीडियो एप टिकटॉक को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। टिकटॉक के पूर्व मॉडरेटर व्हिटनी टर्नर ने मीडिया रिपोर्ट में जानकारी दी है कि टिकटॉक कथित तौर पर अपने कंटेंट मॉडरेटर्स को प्रशिक्षण के रूप में बच्चों के यौन शोषण वाले वीडियो दिखाता है। उन्होंने कहा कि टिकटॉक संदर्भ गाइड के रूप में मॉडरेटर्स को एक स्प्रेडशीट उपलब्ध कराता है, जिसमें बच्चों के साथ दुव्यर्वहार करने वाली और उनकी नग्न तस्वीरें मौजूद होती है। 

दरअसल, टर्नर ने एल पासो में थर्ड-पार्टी मॉडरेशन कंपनी टेलीपरफॉर्मेंस (Teleperformance) के लिए काम किया है, जहां उन्हें टिकटॉक के कंटेंट मॉडरेटर्स प्रोग्राम के लिए भी काम करना पड़ा था। फोर्ब्स की रिपोर्ट के अनुसार थर्ड पार्टी एप टिकटॉक बच्चों के यौन शोषण की तस्वीरों का एक बड़ा डाटा टिकटॉक कंटेंट मॉडरेटर्स को कंटेंट बनाने के लिए रेफरेंस के दौर पर देता है।
 

टिकटॉक के पूर्व मॉडरेटर व्हिटनी टर्नर ने खुलासा करते हुए कहा,’टिकटॉक यूज करने वाले बच्चों के पेरेंट्स नहीं जानते की टिकटॉक के पास यह फोटोज हैं। जब वह टिकटॉक कंटेंट मॉडरेटर्स थे तो उन्हें एक स्प्रेडशीट को एक्सेस करने की परमीशन दी गई थी, जिसमें एप की कन्यूनिटी गाइडलाइन के बारे में डाटा उपलब्ध था। इसी स्प्रेडशीट में बच्चों के साथ दुव्यर्वहार करने वाली और उनकी सैकड़ों नग्न तस्वीरें मौजूद थी।

इस खुलासे के पहले से टिकटॉक की भारत में वापसी की भी चर्चा है। दरअसल, टिकटॉक की पैरेंट कंपनी बाइटडांस (Byetdance) ने टिकटॉक की वापसी के लिए मुंबई की एक कंपनी से बातचीत की थी। Skyesports के फाउंडर और सीईओ शिव नंदी ने अपने एक बयान में इस बात की ओर इशारा किया था कि टिकटॉक भारत में वापसी की तैयारी में है। आपको बता दें कि टिकटॉक को साल 2020 में 59 अन्य चाइनीज एप के साथ सुरक्षा कारणों से बैन किया गया था। 

विस्तार

चीनी शॉर्ट-फॉर्म वीडियो एप टिकटॉक को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। टिकटॉक के पूर्व मॉडरेटर व्हिटनी टर्नर ने मीडिया रिपोर्ट में जानकारी दी है कि टिकटॉक कथित तौर पर अपने कंटेंट मॉडरेटर्स को प्रशिक्षण के रूप में बच्चों के यौन शोषण वाले वीडियो दिखाता है। उन्होंने कहा कि टिकटॉक संदर्भ गाइड के रूप में मॉडरेटर्स को एक स्प्रेडशीट उपलब्ध कराता है, जिसमें बच्चों के साथ दुव्यर्वहार करने वाली और उनकी नग्न तस्वीरें मौजूद होती है। 



Source link