Hamara Kasba I Hindi News I Bundelkhand News

ट्विटर ने फर्जी खातों पर अमेरिका को किया गुमराह, पूर्व सुरक्षा अधिकारी ने झूठ बोलने का लगाया आरोप

ByNews Desk

Aug 25, 2022


ख़बर सुनें

दिग्गज सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर के पूर्व सुरक्षा अधिकारी व व्हिसलब्लोअर पीटर जाटको ने कंपनी पर अमेरिकी नियामकों को फर्जी खातों व हैकरों के खिलाफ सुरक्षा को लेकर गुमराह करने का आरोप लगाया है। पीटर ने 84 पन्नों की शिकायत में कहा, ट्विटर ने यूजर्स की मजबूत सुरक्षा व्यवस्था का जो दावा किया था, वह झूठा था।

बीते माह अमेरिकी प्रतिभूति और विनिमय आयोग, संघीय व्यापार आयोग और न्याय विभाग में दर्ज कराई शिकायत में जाटको ने ट्विटर पर स्वचालित बॉट्स की संख्या कम बताने का आरोप मढ़ा और कहा कि कंपनी फर्जी खातों व बॉट्स से निपटने के मुकाबले यूजर्स बढ़ाने को प्राथमिकता देती है। सुरक्षा जोखिम में लापरवाही बरतते हुए यूजर्स की संख्या बढ़ाकर ट्विटर अधिकारी लाखों डॉलर का बोनस कमाते हैं।

मस्क को डील तोड़ने में मिल सकती है मदद
व्हिसलब्लोअर पीटर जाटको की इस शिकायत से टेस्ला के मालिक एलन मस्क की ट्विटर खरीद समझौता तोड़ने की योजना को बल मिला है, क्योंकि वे लंबे समय से कंपनी को फर्जी खातों की सही संख्या न बताने और बॉट्स को लेकर घेरते आ रहे हैं। मस्क ने 44 अरब डॉलर में ट्विटर खरीदने की डील को मोटे तौर पर फर्जी खातों और बॉट्स को आधार बनाकर ही रद्द कर दिया था, जिसके बाद दोनों पक्ष एक-दूसरे के खिलाफ अदालत पहुंच गए। अब 17 अक्तूबर को इस मामले में मुकदमा शुरू होना है।

  • कॉरपोरेट कानूनविदों के मुताबिक, जाटको के दावे के बाद मस्क ट्विटर को सुरक्षा और डाटा निजता में विफलता जैसे पहलुओं पर ज्यादा मजबूती से घेर सकेंगे। साथ ही कंपनी के खिलाफ फर्जी खातों की गलत संख्या बताने का आरोप साबित करना भी आसान हो जाएगा।

 

  • छह फीसदी गिरा शेयर : उधर, शिकायत की खबर के बाद ट्विटर का शेयर करीब 6% गिर गया। सीईओ पराग अग्रवाल ने कर्मचारियों को एक मेमो भेजकर आरोपों को आधारहीन व विसंगतियों भरा बताया।
  • राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए गंभीर चिंता : सीनेट न्यायिक समिति ने इस शिकायत को राष्ट्रीय सुरक्षा व निजता के लिए गंभीर चिंता करार देते हुए जांच की जरूरत बताई।

ट्विटर पर भड़काऊ बयानों और फर्जी खातों को हटाएगी टास्क फोर्स
ट्विटर भड़काऊ बयानों और फर्जी खातों को हटाने के लिए टास्क फोर्स बनाएगी। स्पैम बॉट और सुरक्षा पर उठे सवालों के बाद कंपनी ने यह फैसला लिया है। प्लेटफॉर्म को और बेहतर बनाने के लिए सोशल मीडिया कंपनी गलत सूचना और हानिकारक सामग्री को हटाने के लिए ट्विटर सर्विस टीम के साथ मिलकर काम करेगी। इस नए ग्रुप को हेल्थ प्रोडक्ट एंड सर्विसेज (एचपीएस) कहा जाएगा। ट्विटर सर्विस के लिए प्रोडक्ट टीम की वाइस प्रेसिडेंट, एला इरविन एचपीएस का नेतृत्व करेंगी।

विस्तार

दिग्गज सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर के पूर्व सुरक्षा अधिकारी व व्हिसलब्लोअर पीटर जाटको ने कंपनी पर अमेरिकी नियामकों को फर्जी खातों व हैकरों के खिलाफ सुरक्षा को लेकर गुमराह करने का आरोप लगाया है। पीटर ने 84 पन्नों की शिकायत में कहा, ट्विटर ने यूजर्स की मजबूत सुरक्षा व्यवस्था का जो दावा किया था, वह झूठा था।

बीते माह अमेरिकी प्रतिभूति और विनिमय आयोग, संघीय व्यापार आयोग और न्याय विभाग में दर्ज कराई शिकायत में जाटको ने ट्विटर पर स्वचालित बॉट्स की संख्या कम बताने का आरोप मढ़ा और कहा कि कंपनी फर्जी खातों व बॉट्स से निपटने के मुकाबले यूजर्स बढ़ाने को प्राथमिकता देती है। सुरक्षा जोखिम में लापरवाही बरतते हुए यूजर्स की संख्या बढ़ाकर ट्विटर अधिकारी लाखों डॉलर का बोनस कमाते हैं।

मस्क को डील तोड़ने में मिल सकती है मदद

व्हिसलब्लोअर पीटर जाटको की इस शिकायत से टेस्ला के मालिक एलन मस्क की ट्विटर खरीद समझौता तोड़ने की योजना को बल मिला है, क्योंकि वे लंबे समय से कंपनी को फर्जी खातों की सही संख्या न बताने और बॉट्स को लेकर घेरते आ रहे हैं। मस्क ने 44 अरब डॉलर में ट्विटर खरीदने की डील को मोटे तौर पर फर्जी खातों और बॉट्स को आधार बनाकर ही रद्द कर दिया था, जिसके बाद दोनों पक्ष एक-दूसरे के खिलाफ अदालत पहुंच गए। अब 17 अक्तूबर को इस मामले में मुकदमा शुरू होना है।

  • कॉरपोरेट कानूनविदों के मुताबिक, जाटको के दावे के बाद मस्क ट्विटर को सुरक्षा और डाटा निजता में विफलता जैसे पहलुओं पर ज्यादा मजबूती से घेर सकेंगे। साथ ही कंपनी के खिलाफ फर्जी खातों की गलत संख्या बताने का आरोप साबित करना भी आसान हो जाएगा।

 

  • छह फीसदी गिरा शेयर : उधर, शिकायत की खबर के बाद ट्विटर का शेयर करीब 6% गिर गया। सीईओ पराग अग्रवाल ने कर्मचारियों को एक मेमो भेजकर आरोपों को आधारहीन व विसंगतियों भरा बताया।
  • राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए गंभीर चिंता : सीनेट न्यायिक समिति ने इस शिकायत को राष्ट्रीय सुरक्षा व निजता के लिए गंभीर चिंता करार देते हुए जांच की जरूरत बताई।


ट्विटर पर भड़काऊ बयानों और फर्जी खातों को हटाएगी टास्क फोर्स

ट्विटर भड़काऊ बयानों और फर्जी खातों को हटाने के लिए टास्क फोर्स बनाएगी। स्पैम बॉट और सुरक्षा पर उठे सवालों के बाद कंपनी ने यह फैसला लिया है। प्लेटफॉर्म को और बेहतर बनाने के लिए सोशल मीडिया कंपनी गलत सूचना और हानिकारक सामग्री को हटाने के लिए ट्विटर सर्विस टीम के साथ मिलकर काम करेगी। इस नए ग्रुप को हेल्थ प्रोडक्ट एंड सर्विसेज (एचपीएस) कहा जाएगा। ट्विटर सर्विस के लिए प्रोडक्ट टीम की वाइस प्रेसिडेंट, एला इरविन एचपीएस का नेतृत्व करेंगी।



Source link